यूपी गेहूं खरीद हेतु किसान पंजीकरण विपणन वर्ष: 2020-21

गेहूँ खरीद हेतु किसान पंजीकरण २०२०

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका एक बार फिर से हमारी वेबसाइट पर

दोस्तों अगर आप एक किसान है तो आपको यह जरूर मालूम होगा कि सबसे पहले तो किसानों की यह समस्या रहती है कि वह अपनी खेती करें और उसका ध्यान रखें। क्योंकि दोस्तों एक बार अगर फसल खराब हो जाती है तो बहुत भारी नुकसान किसानों को उठाना पड़ जाता है। ऐसे में फसल का ध्यान रखना उसकी कटाई के बाद जो सबसे बड़ी समस्या किसानों को होती है यह होती है कि उनका फसल किस तरह बिक जाए? और उनको उसके अच्छे दाम मिल जाए जिससे अपना जीवन खुशी से बसर कर सके और आने वाले टाइम में वह दोबारा से अपनी पसंद की तैयारी कर सकें और उनकी मेहनत भी वसूल हो सके क्योंकि दोस्तों यह हम सभी जानते हैं कि खेतीबाड़ी में किस कदर मेहनत लगती है तो दोस्तों आज हम आपके लिए ऐसी ही एक योजना लेकर आए हैं जिसकी जानकारी लेकर आपको बेहद खुशी होगी तो अगर आप भी ऐसी किसी योजना की तलाश कर रहे थे तो आइए अब हम आपको बताते हैं क्या है योजना?

Uttar Pradesh (UP) Gehun Kharid Kisan Panjikaran 

गेहूं खरीद हेतु किसान पंजीकर

 

अगर आप भी अपनी फसल सरकार को बेचना चाहते हैं तो आपको इसके लिए सरकार द्वारा बताए गए निर्देशों का पालन करते हुए अपना पंजीकरण कराना होगा। उत्तर प्रदेश सरकार में इस सीजन की फसल की खरीद शुरू कर दी है। किसानों को उनकी फसल का सही मूल्य मिल सके यानी उनके फसल की सही कीमत लगाई जा सके इसलिए खाद्य और नागरिक आपूर्ति विभाग उत्तर प्रदेश के किसानों से उनकी फसल खरीदा है।

इन विभागों द्वारा उत्तर प्रदेश गेहूं की फसल की खरीदारी 15 अप्रैल से शुरू कर दी गई है और यह खरीदारी 15 मई तक जारी रहेगी। आप भी अगर अपनी फसल इन विभागों को बेचना चाहते हैं तो आपको इसके लिए पंजीकरण कराना होगा।

आपको बता दें कि आप अपनी फसल यानी अपने गेहूं को सरकारी गोदामों पर नहीं भेज सकते इसके लिए आपको सरकार द्वारा जारी किए गए पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण कराना होगा फिर सरकार आपको इस पंजीकरण के माध्यम से एक टोकन देगी उस टोकन द्वारा आपकी पसंद खरीदी जाएगी और आपको उसकी सही कीमत दी जाएगी आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार अपनी राज्य की किसानों की फसल उनको खाद्य विभाग और नागरिक आपूर्ति विभाग द्वारा खरीद लेती है।

Read: {पंजीकरण} उत्तर प्रदेश प्रवासी यात्रा रजिस्ट्रेशन

आप भी अगर सरकार को अपनी फसल बेचना चाहते हैं तो आइए हम आपको बताते हैं कि आप किस प्रकार से अपनी फसल सरकार को भेज सकते हैं।

 

किसान पंजीकरण के लिए महत्वपूर्ण निर्देश 

 

  • 100 क्विंटल से अधिक की बिक्री के लिए डिप्टी कलेक्टर द्वारा ऑनलाइन सत्यापन किया जाएगा।  चकबंदी गांवों में बेची गई मात्रा का 100% सत्यापन किया जाएगा
  • किसान को अपने आधार नंबर, आधार कार्ड में वर्णित अपने नाम और लिंग का सही उल्लेख करना चाहिए।
  • आपके खतौनी में दर्ज नाम के पंजीकरण में, कृपया सही दर्ज करें, खतौनी (बाईं ओर) में उल्लिखित सभी नामों में अपना नाम चुनने का विकल्प ऑनलाइन ड्रॉप डाउन में उपलब्ध होगा।  नाम के अंतर के मामले में, डिप्टी कलेक्टर द्वारा ऑनलाइन सत्यापन किया जाएगा।
  • किसानों को अपना बैंक खाता सीबीएस खाता खोलना चाहिए और बैंक खाता और आईएफएससी कोड भरने में विशेष सावधानी बरतनी चाहिए।
  • जिन किसानों ने खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में धान खरीद के लिए पंजीकरण किया है, उन्हें गेहूं की बिक्री के लिए फिर से पंजीकरण करने की आवश्यकता नहीं है, संशोधन करके या संशोधन के बिना फिर से बंद करने की आवश्यकता है।
  • गेहूं बेचने के बाद, आपको केंद्र प्रभारी से एक पावती पत्र प्राप्त करना होगा।

{Apply Online} Ek Parivar Ek Naukri Yojana 2020

गेहूं खरीद हेतु किसान पंजीकरण के लिए कुछ जरूरी दस्तावेज

 

  • किसान की किताब
  • किसान जमीन का विवरण
  • खाता संख्या के साथ कम्प्यूटरीकृत खाता
  • किसान फोटो के साथ आधार कार्ड / पहचान पत्र
  • किसान बैंक पासबुक फोटो प्रति
  • किसान पता प्रमाण पत्र
  •   किसान पासपोर्ट साइज फोटो
  •   किसान का मोबाइल नंबर

 यूपी गेहूं खरीद हेतु किसान रजिस्ट्रेशन: कुछ और महत्वपूर्ण बातें।

  • इसके लिए आपको ऑनलाइन ही आवेदन कर आना होगा और जो व्यक्ति 2019 20 में धान खरीद हेतु पंजीकरण करा चुके हैं उन लोगों को इसके लिए पंजीकरण कराने की जरूरत नहीं पड़ेगी।
  • आप अगर इसके लिए पंजीकरण करा रहे हैं तो आपको बता दें कि पंजीकरण प्रक्रिया छह चरणों में समाप्त होगी।
  • सबसे पहले तो आपको इसका एक ऑफलाइन प्रारूप पंजीकरण पत्र लेना होगा अब आप से मांगी गई सभी जानकारी आपको इस के अंदर भरनी होगी।
  • और साथ ही आप से मांगी गई सभी दस्तावेज आपको इस पत्र के साथ जोड़ने होंगे अब आप जब यह प्रक्रिया पूरी कर चुके होंगे तो इसके बाद आपकी ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू होगी।
  • गेहूं खरीद हेतु किसान पंजीकरण कैसे करें

दोस्तों इस पंजीकरण की प्रक्रिया थोड़ी बड़ी है तो कृपया आप को नीचे बताई गई सभी जानकारी आप ध्यानपूर्वक पढ़ें और 1, 1 स्टेप्स को ध्यानपूर्वक फॉलो करें।

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना

गेहूं खरीद पंजीकरण 2020 उत्तर प्रदेश चरण 1:- 

  • सबसे पहले आपको इसकी ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा ऑफिशल वेबसाइट पर जाने के लिए आप नीचे दिए गए लिंक पर भी क्लिक कर सकते हैं। >>https://eproc.up.gov.in/Uparjan/Home_Reg.aspx
  • इस के होम पेज पर आपको गेहूं खरीद हेतु किसान पंजीकरण का विकल्प दिखाई देगा आपको इस विकल्प पर क्लिक कर लेना है।

  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा जिसमें आपको बहुत सी जानकारी दी जाएगी। यह जानकारी ध्यानपूर्वक पढ़ने के बाद आपको यहां से एक फॉर्म डाउनलोड करना होगा आप इस स्टेप 1 फॉर्म को डाउनलोड कर लीजिए।

गेहूं खरीद के लिए किसान पंजीकरण चरण 2:- 

जैसे कि अब यह हमारा पंजीकरण का दूसरा स्टाफ है तो आपको यहां पर स्टेप 2 पर क्लिक कर लेना है।

 

  • दूसरे चरण में पंजीकरण करने के लिए किसान को अपना मोबाइल नंबर डालना होगा या फिर आप यहां पर कैप्चा कोड डालकर भी आगे बढ़ सकते हैं।

  • जैसे ही आप आगे बढ़ें के विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने आपका रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा यहां पर आपसे आपकी जानकारी मांगी जाएगी। आपको अपनी सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भर लेनी है।
  • आप से पूछी गई सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरने के बाद आप पंजीकरण करें के विकल्प पर क्लिक करें।

गेहूं खरीद के लिए किसान पंजीकरण चरण 3:- 

अब आपको यहां पर तीसरे स्टेप के ऑप्शन पर क्लिक करना है।

  • यहां पर आपको आपका वह फॉर्म दिखाया जाएगा जो आपने अभी अभी बना है। कृपया आप अपनी फॉर्म की जानकारी दोबारा से चेक करले और आगे बढ़े।

इसके बाद अब आपको स्टेप 4:- 

  • यहां पर आप पंजीकरण संशोधन के विकल्प पर क्लिक करें।
  • यहां आपके सामने आवेदन फॉर्म संशोधन के लिए खुल जाएगा। अगर आप यहां फॉर्म में कोई संशोधन करना चाहते हैं या जिन किसानों ने खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में धान खरीद के लिए पंजीकरण कराया है, उन्हें संशोधन करना होगा।
  •   इसके बाद एक बार सभी जानकारियों को सही से जांच लें।
  •   जानकारी को संशोधित करने के लिए संशोधित करें।

 

अब, यदि आप कोई जानकारी जोड़ सकते हैं या आप अपनी भूमि और जानकारी जोड़ सकते हैं, और यदि आप भूमि जोड़ना नहीं चाहते हैं और न ही उसमें संशोधन करना चाहते हैं, तो आप आगे बढ़ें पर क्लिक करें।

गेहूं खरीद के लिए किसान पंजीकरण चरण 5:- 

पांचवे स्टेप अप में आप पंजीकरण लोग के ऑप्शन पर क्लिक करें।

  • यहां पर आपको आपके द्वारा भरा गया पंजीकरण फॉर्म खोल कर आ जाएगा आप ने जो भी जानकारी इसमें भरी होगी वह सब आपको बता दी जाएगी और इसी के साथ-साथ आपको पंजीकरण नंबर यानि रजिस्ट्रेशन नंबर भी दे दिया जाएगा।
  • सभी जानकारी चेक करने के बाद आप अपना आवेदन फॉर्म लॉक कर दें।

यह ध्यान रहे कि लॉक करने के बाद आप अपने आवेदन फॉर्म में किसी भी प्रकार का कोई सुधार नहीं कर सकते। आप अगर किसी गलती का सुधार करना चाहते हैं तो ब्लॉक करने से पहले ही अपने आवेदन फॉर्म में उसका सुधार कर लें।

गेहूँ खरिद किसान पंजिकरन कदम 6:- 

  • छठे स्टेप में आपको पंजीकरण फॉर्म सबमिट करने के बाद पंजीकरण फॉर्म प्रिंट के ऑप्शन पर क्लिक कर लेना है।
  • यहां से आप अपना फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं।
  • यह डाउनलोड किया हुआ फॉर्म आपसे सरकारी गोदाम पर मांगा जाएगा। आप अपने दस्तावेज और यह फॉर्म कहां पर जमा करा दें।
  • और इसकी एक कॉपी अपने पास जरूर रखें।

उत्तरप्रदेश गेहूं खरीद हेतु किसान पंजीकरण चरण 7:- 

आपको इस अंतिम चरण में अपना टोकन बनाना है तो यहां पर आप टोकन बनाने के विकल्प पर क्लिक करें।

  • यहां पर आपसे आपका किसान पंजीकरण आईडी नंबर या आपने जो पंजीकरण फॉर्म में अपना मोबाइल नंबर डाला है वह मांगा जाएगा आप यहां पर दोनों में से कोई भी एक नंबर डाल दें।
  • अब आपको अपना कैप्चा कोड डालना होगा कैप्चा कोड डालने के बाद आप आगे बढ़ें के विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब आप का टोकन जनरेट हो जाएगा आपको इसका एक प्रिंट आउट निकाल लेना है इसी टोकन पर आपको कहां पर अपनी फसल देनी है आपको इसकी और उस गोदाम की भी पूरी जानकारी दे दी जाएगी।

{आवेदन} महात्मा ज्योतिबा फुले जन आरोग्य योजना 2020

और इस तरह से आप की यह प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

 

आशा करते हैं कि यह जानकारी आपके काम आई ऐसी योजनाओं की जानकारी के लिए आप हमसे जुड़े रहें।

आपको यह जानकारी कैसी लगी इसके बारें में आप हम नीचे कमेंट बॉक्स में जरुर बताएं।

हम आपसे मिलेंगे जल्द ही एक नई और लाभदायक पोस्ट के साथ तब तक खुश रहिए स्वस्थ रहिए।

धन्यवाद।

 

Updated: May 12, 2020 — 11:13 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *