{Apply} मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना – Bal Shramik Vidya Yojana Registration

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2020

आज का हमारा ये लेख हमारे सभी उत्तर प्रदेशवासियो में रहने वाले मजदूर औऱ श्रमिक परिवार के बच्चो को समर्पित हैं जिनकी शिक्षा-दीक्षा पैसो के अभाव में नहीं हो पाती हैं और ना ही वे आगे चलकर अपना अच्छा भविष्य बना पाते हैं। इसलिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ की सरकार ने, इसी परिस्थिति और स्थिति को सुधारने के लिए मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना (UP Bal Shramik Vidya Yojana) घोषणा की हैं जिससे अब प्रदेश के किसी भी श्रमिक के बच्चे की शिक्षा के साथ समझौता नहीं किया जायेगा और उसे अन्य परिवारे बच्चो के समान ही उनकी शिक्षा व्यवस्था का पूरा इंतजाम किया जायेगा ताकि हमारे इन श्रमिक परिवारो के बच्चे भी अच्छी शिक्षा अर्जित कर सकें औऱ अपना एक उज्जवल भविष्य बना सकें।

हम अपने इस लेख में, आपको इस योजना अर्थात् मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना की पूरी जानकारी, योजना का लक्ष्य, योजना से होने वाले लाभ, योजना में आवेदन के लिए जरुरी दस्तावेजो व पात्रताओ की सूची और  कैसे करना होगा ऑनलाइन आवेदन इसकी पूरी प्रक्रिया को हम आपके सामने विस्तार से ऱखेंगे ताकि आप इस योजना के तहत आवेदन कर सकें और अपने बच्चो के उज्जवल भविष्य के निर्माण में अपना योगदान दे सकें।

योजना पर, आपकी एक नजर

हम सभी जानते हैं कि, हमारे श्रमिक परिवारो को कितनी जदो-जहद के बाद दो वक्त की रोटी मिलती हैं ऐसे में उनके बच्चो की शिक्षा की बात करें तो लगता हैं कि, हम उनके साथ घिनौना मजाक कर रे हैं औऱ कारण आप सभी जानते हैं।

यू.पी सरकार ने, इस विडम्बना को दूर करने के लिए औऱ इस परिस्थिति को खत्म करने के लिए ही जिन योजना का शुभारम्भ किया है उसका नाम हैं मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना जिसके तहत हमारे सभी श्रमिक परिवारो के बालको को 1,000 रु और बालिकाओ को 1,200 रु की आर्थिक सहायता दी जायेगी व हमारे सभी श्रमिक परिवारो के वे बच्चे जो 8वीं, 9वीं और 10वीं कक्षा में पढ़ रहे हैं उन्हें सालाना 6000 रुपयो की अतिरिक्त सहयाता राशि प्रदान की जायेगी ताकि इनकी शिक्षा सुचारु ढंग से चलती रहे औऱ उन्हें बीच में ही पैसो की कमी  के कारण अपनी पढ़ाई को ना रोकना पड़े ताकि वे अपने लिए औऱ अपने देश के लिए कुछ अच्छा कर सकें और अपने उज्जवल भविष्य का निर्माण स्वंय अपने हाथो से  कर सकें।

Read: {आवेदन} बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना 2020

कितनी जरुरी थी ये योजना ?

ये योजना कितनी जरुरी थी इसका अंदाजा हम सड़को पर इधर से उधर घूमते हुए हमारे श्रमिक परिवारो के बच्चो को देख कर लगा सकते हैं और इनके माता-पिता की आंखो में झलकी लाचारी को देख कर महसूस कर सकते हैं कि, इस योजना की इस समय यू.पी के श्रमिक परिवारो को कितनी जरुरत थी क्योंकि इस योजना के माध्यम से हमारे सभी श्रमिक परिवारो के बच्चो को बेहतर शिक्षा मिल सकती हैं उनके बेहतर भविष्य का निर्माण हो सकें।

योजना के तहत होगी इन उद्धेश्यो की पूर्ति

यू.पी सरकार इस योजना के माध्यम से जिन उद्धेश्यो को पूरा करना चाहती है वे इस प्रकार से हैं –

  1. योजना के तहत श्रमिक परिवार की बालिकाओ को प्रतिमाह 1,200 रुपयो की आर्थिक सहायता दी जायेगी ताकि यू.पी में कन्याओ के प्रति बढ़ रही असमानता को खत्म किया जा सकें औऱ हमारी कन्याओ की समुचित शिक्षा व्यवस्था की जा सकें ताकि हमारी कन्यायें स्वंय अपने उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकें,
  2. इस योजना के श्रमिक परिवार के बालको को प्रतिमाह 1,000 रुपयो की आर्थिक सहायता दी जायेगी ताकि उनकी शिक्षा बेहतर हो और वे अपने उज्जवल भविष्य की रुपरेखा को अपने हाथो से खींच सकें,
  3. इस योजना के तहत ’’ बाल संसाधन निर्माण ’’ का उद्धेश्य भी किया जायेगा पूरा,
  4. योजना के तहत हमारे सभी श्रमिक परिवारो को उनके बच्चो की शिक्षा पर आने वाले खर्चौ के बोझ से मुक्ति दिलाना हैं,
  5. इस योजना के तहत हमारे श्रमिक बच्चो को अपनी शिक्षा प्रदान करके उन्हें एक प्रगतिशील युवा बनाना हैं जो अपने साथ-साथ अपने भविष्या का भी निर्माण कर सकें आदि।

उपरोक्त उद्धेश्यो की पूर्ति के लक्ष्य को लेकर इस योजना का शिलान्यास किया गया है।

Read: {Apply} PM Mahila Samman Yojana 2020

योजना के तहत मिलने वाले लाभो का ब्लू-प्रिंट

इस योजना के तहत हमारे सभी चयनित लाभार्थियो को जिन-जिन लाभो की प्राप्ति होगी जिसकी सहायता से वे अपनी शिक्षा और उज्जवल भविष्य को निखार सकते हैं उनकी ब्लू-प्रिंट सूची इस प्रकार से हैं –

  1. इस योजना का लाभ यू.पी के तमाम गरीब, आर्थिक तौर पर कमोजर और पिछड़े वर्ग के बच्चो को मिलेगा ताकि उनकी शिक्षा व्यवस्था सुचारू हो और वे अपने उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकें,
  2. इस योजना के तहत चयनित सभी लाभार्थियो को उत्तर प्रदेश की सरकार आर्थिक राशि, सहायता व प्रोत्साहन के तौर पर प्रदान करेगी जैसे कि- बालको को प्रतिमाह 1,000 रु और बालिकाओ को प्रतिमाह 1,200 रु की आर्थिक सहायता प्रदान की जायेगी,
  3. 8वीं, 9वीं औऱ 10वीं कक्षा में पढ़ने वाले उत्तर प्रदेश की सभी श्रमिक परिवार के विघार्थियो को प्रतिवर्ष 6,000 रु की आर्थिक मदद दी जायेगी,
  4. इस योजना के तहत, इस योजना के शुरुआत वाले दिन आधिकारीक तौर पर 2,000 से अधिक श्रमिक परिवार के बच्चो को धन भेजा जायेगा,
  5. योजना में पारदर्शिता को बनाये रखने के लिए योजना के तहत दी जाने वाली रकम सीधा लाभार्थियो के खातो में जमा की जायेगी आदि।

उपरोक्त लाभो को प्राप्त करके हमासे सभी यू.पी के श्रमिक परिवारो के विघार्थी अपना उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकते हैं।

योजना के तहत तय कुछ पात्रतायें

इस योजना में, आवेदन करने वाले आवेदको में से लाभार्थियो के चयन के लिए कुछ पात्रतायें तय की गई है जो कि, इस प्रकार है –

  1. आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए,
  2. आवेदन की आयु कम से कम 8 से 18 साल के बीच होनी चाहिए,

उपरोक्त पात्रताओ को पूरा करते हुए हमारे चयनित लाभार्थी इस योजना का लाभ लेकर अपने उज्जवल भविष्य की रुपरेखा को खीच सकते हैं।

योजना के तहत मांगी जाने वाली दस्तावेजो की सूची

यू.पी सरकार के इस बाल कल्याणकारी योजना में जिन दस्तावेजो की मांग की जायेगी उनकी एक सूची इस प्रकार हैं जो कि, हम आपकी सुविधा के लिए यहां पर प्रस्तुत कर रहे हैं –

  1. आवेदनकर्ता के पास आधार कार्ड होना चाहिए,
  2. आवेदनकर्ता के पास निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए,
  3. आवेदनकर्ता के पास एक सक्रिय मोबाइल नंबर होना चाहिए,
  4. आवेदनकर्ता का अपना एक सक्रिय बैंक खाता होना चाहिए जो उसके आधार कार्ड से लिंक हो व
  5. आवेदनकर्ता की एक ताजा तस्वीर होनी चाहिए आदि।

उपरोक्त दस्तावेजो के आधार पर हमारे सभी उम्मीदवार इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।

योजना में, आवेदन के लिए अभिभावको को करना होगा इंतजार

हम अपने सभी उत्तर प्रदेशवासी अभिभावको को सूचित करना चाहते हैं कि, अगर वे उत्तर प्रदेश सरकार की इस बाल कल्याणकारी योजना में आवेदन करना चाहते हैं और अपने बच्चो के उज्जवल भविष्य के सूर्योदय को देखना चाहते हैं तो उन्हें अभी इसके लिए इंतजार करना होगा क्योंकि इस योजना में, आवेदन की पूरी प्रक्रिया को लेकर अभी तक कोई भी आधिकारीक घोषणा नहीं की गई हैं क्योंकि अभी कुछ समय पहले ही इस योजना की रुपरेखा को तैयार किया गया हैं। इसलिए, इस प्रकार सरकार को कुछ समय लगेगा इसमें आवेदन प्रक्रिया के हर चरण को तैयार करने में।

हमारा सभी अभिभावको विनम्र निवेदन हैं कि, वे इंतजार करें औऱ जैसे ही सरकार इस योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया की घोषणा करती हैं हम आपको इसके बारे में अपने अगले लेख में तुरन्त सूचित करेंगे ताकि आप भारी मात्रा में, इस योजना का लाभ ले सकें और अपने बच्चो के कल्य़ाण को तय कर सकें।

Read: PM गरीब कल्याण रोजगार अभियान

FAQ’s

योजना को लेकर आपके Q. और हमारे Ans.

योजना को लेकर हमें आपके कई Q. मिले हैं जिनका Ans. हमने इस प्रकार से दिया हैं जो कि, इस प्रकार हैं-

Q– इस योजना का लाभ क्या सभी भारतीय श्रमिक परिवारो के बच्चो को मिलेगा?

Ans. – इस योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के श्रमिक परिवार के बच्चो को ही मिलेगा।

Q– इस योजना का मौलिक लक्ष्य क्या हैं ?

Ans. – इस योजना का मौलिक लक्ष्य हैं यू.पी के श्रमिक परिवारो के गरीब बच्चो को बेहतर शिक्षा प्रदान करना जिसके लिए वे आर्थिक सहायता भी देंगी ताकि हमारे श्रमिक परिवार के बच्चे अपने हाथो से अपने भविष्य का निर्माण कर सकें।

Q– योजना के तहत किन-किन चीजो की जरुरत होगी ?

Ans. – योजना के तहत हमारे सभी आवेदको को, योजना के अनुसार तय सभी पात्रताओ और दस्तावेजो को पूरा करना होगा तभी वे इस योजना का लाभ ले सकेंगे।

Q– कब से शुरु होगी, योजना में आवेदन की प्रक्रिया?

Ans. – इस योजना के तहत अभी आवेदन प्रक्रिया को लेकर कोई जानकारी जारी नहीं की गई हैं इसलिए जैसे ही इस योजना में आवेदन की प्रक्रिया को लेकर कोई भी जानकारी जारी की जाती हैं, हम आपको अपने अगले लेख में उसकी पूरी जानकारी प्रदान करेंगे ताकि आप इस योजना का लाभ ले सकें और हमारे श्रमिक युवा आत्मनिर्भर और आत्मसशक्त बन सकें।

Q– योजना के तहत कितने रुपयो की मिलेगी आर्थिक सहायता ?

Ans. – योजना के तहत हमारे सभी चयनित लाभार्थियों बालको को 1000 रु और बालिकाओ को 1200 रुपयो की आर्थिक सहायता दी जायेगी वही 8वीं, 9वीं और 10वीं कक्षा में पढ़ रहे सभी छात्रो को सालाना 6000 रु की अतिरिक्त आर्थिक सहायता दी जायेगी ताकि उनकी शिक्षा अच्छी हो और वे अपने अच्छे भविष्य का निर्माण कर सकें।

 

Updated: June 23, 2020 — 10:55 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *