मजदूर भत्ता योजना ऑनलाइन फॉर्म | UP Majdur Bhatta Yojana Online Form

मजदूर भत्ता योजना 2021 यूपी

majdur bhatta yojana online form | Majdur Bhatta Yojana 2021 Online Form | majdur bhatta yojana form pdf | Rs.1000 मजदूर भत्ता योजना ऑनलाइन फॉर्म/रजिस्ट्रेशन पंजीकरण फॉर्म 

पूरे भारत इस समय कोरोना संक्रमण की मार झेल रहा है और इसका सर्वाधिक दुष्प्रभाव हमारे मजदूरो पर पड़ा है इसलिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने, राज्य के सभी मजदूरो का सामाजिक – आर्थिक विकास करने के लिए UP Majdoor Bhatta Yojana 2021 का शुभारम्भ कर दिया है जिसके तहत प्रत्येक मजदूर को कुल 1,000 रुपयो की आर्थिक सहायता राशि सीधा उनके बैंक खातो में जमा की जायेगी ताकि उनका आर्थिक विकास हो सकें।

उत्तर प्रदेश मजदूर भत्ता योजना 2021 के तहत हम, राज्य के अपने सभी मजदूरो को बताना चाहते है कि, इस योजना की मदद से राज्य के कुल 80 लाख मजदूरो को आर्थिक लाभ मिलेगा, राज्य के कुल 58,000 ग्राम सभाओं के 20-20 मजदूरो को 1,000 रुपयो की आर्थिक सहायता दी जायेगी, खाघान्न सशक्तिकरण के लिए 20 किलो गेहूं के साथ – साथ 15 किलो चावल भी प्रदान किया जायेगा ताकि राज्य के मजदूरो का आर्थिक के साथ – साथ खाघान्न विकास भी संभव हो सकें।

अन्त, इस कल्याणकारी योजना को समर्पित अपने इस लेख मे, हम, आपको UP Majdoor Bhatta Yojana 2021, यू.पी मजदूर भत्ता योजना 2021, मजदूर भत्ता योजना online form कैसे डाउनलोड करें?, मजदूर भत्ता योजना ऑनलाइन फॉर्म कैसे प्राप्त करें? और उत्तर प्रदेश मजदूर भत्ता योजना 2021 – आवेदन कैसे करें? की पूरी जानकार प्रदान करेगे ताकि हमारे सभी मजदूर इस योजना में, आवेदन करके इसका लाभ प्राप्त कर सकें।

क्या हैं मजदूर भत्ता योजना 2021-

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्धारा उठाये गये इस क्रान्तिकारी कदम का नाम हैं, “मजदूर भत्ता योजना 2021″

इस योजना के तहत हर 35 लाख मजदूरो को उनके भरण-पोषण के लिए 1000 रु प्रति व्यक्ति देने का बड़ा फैसला लिया हैं। यह पैसा सीधे उनके बैंक खातों में भेजा जायेगा ताकि किसी भी तरह की कोई रिश्वतखोरी ना हो सके।

मजदूर भत्ता योजना 2020.

योजना की पृष्टभूमि-

उत्तर प्रदेश की सरकार द्धारा उठाये गये इस कदम के पीछे की पृष्टभूमि कुछ इस तरह से  हैं कि, ’’ कोरोना वायरस ’’ की वजह से अब तक हजारो लोगो की मौत हो चुकी हैं और इसका संक्रमण सबसे ज्यादा मजदूरो में देखने को मिल रहा हैं इसीलिए उत्तर प्रदेश की सरकार ने मजदूरो को इससे बचाने के लिए और उन्हें इस संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए ही सरकार ने इस योजना की घोषणा की हैं।

Read: कोरोना वायरस से कैसे बचें

इस योजना के होने वाले लाभ के आकंड़े-

मजदूरो के लिए शुरु कि गई इस योजना के लाभ कुछ इस प्रकार हैं-

  1. इस योजना के द्धारा उत्तर प्रदेश के 80 लाख मजदूरों को आर्थिक लाभ मिलेगा,
  2. श्रम विभाग के 20 लाख मजदूरो को मिलेगा लाभ,
  3. वहीं नगर विकास के 16 लाख कर्मचारी भी होगें लाभान्वित,
  4. 58 हजार ग्राम सभाओँ के 20-20 मजदूरो को सीधे उनके खातो में 1000 रु दिये जायेगे आदि,
  5. इसी के साथ उन्होंने अन्त्योंदय योजना व मनरेगा के तहत आने वाले मजदूरो को जिनकी संख्या कुल 1 करोड़ 65 लाख 31 हजार हैं उन्हें एक महिने का नि-शुल्क राशन उपलब्ध करवायेगी,
  6. इस योजना के तहत 20 किलो गेहूं और 15 किलों चावल मुफ्त मिलेगा,
  7. इसी योजना में हमारे दिव्यांग भाई-बहनो और विधवाओ को शामिल किया जायेगा आदि।

उपरोक्त लाभ के वे आंकड़े हैं जो कि, इस योजना के तहत मजदूरो को मिलेंगें।

Read: {यूपी भूलेख} UP BhuLekh 2020-2021

इस योजना का लाभ लेने के लिए होगी इन दस्तावेजो व शर्त-पूर्ति की जरुरत-

इस योनजा का लाभ लेने के लिए आपको इन कागजातो की पड़ सकती हैं जरुरत, जो कि, इस प्रकार हैं-

  1. आवसीय प्रमाण पत्र अर्थात् आवेदक उत्तर प्रदेश का मूल-निवासी होना चाहिए,
  2. आवेदक के पास श्रम विभाग, नगर विकास या फिर ग्राम सभाओं द्धारा अधिकृत सर्टिफिकेट होना चाहिए,
  3. इस योजना का लाभ सिर्फ और सिर्फ मजदूर ही ले सकते हैं आदि।

उपरोक्त दस्तावेजो और शर्त-पूर्ति के बाद ही आप इस योनजा का लाभ उठा सकते हैं।

पैसा सीधे बैंक खातो में-

बिचौलियो और रिश्वतखोरो पर सख्त कार्यवाई करते हुए सरकार ने फैसला लिया है कि, इस योजन के तहत दि जाने वाली रकम सीथ लाभार्थी के बैंक खाते में भेजी जायेगी जिसे लाभार्थी अपनी सुविधानुसार प्रयोग कर सकता हैं।

अन्त, हालत बेहद गंभीर होते जा रहे हैं पर हमें बिलकुल भी परेशान होने की जरुरत नहीं हैं क्योंकि भारत सरकार लगातार हमारे हित मे कदम उठा रही हैं।

इसे भी पढ़े…..

हरयाणा योजना बिहार योजना
मध्य प्रदेश योजना मध्य प्रदेश योजना
पंजाब योजना उत्तर प्रदेश योजना
मुख्यमंत्री योजना राशन कार्ड सूची
तमिलनाडु योजना आंध्र प्रदेश योजना
बंगाल योजना दिल्ली योजना
हिमाचल प्रदेश योजना गुजरात योजना

 

Leave a Comment