यूपी जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 - Population Control Act Details

यूपी जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 – Population Control Act Details

जनसंख्या नियंत्रण कानून क्या है?

यूपी जनसंख्या कानून 2022 ।। जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022  ।। जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft ।। जनसंख्या नियंत्रण कानून पर लेख ।।

11 जुलाई, 2022 अर्थात् विश्व जनसंख्या दिवस के बड़े अवसर पर उत्तर प्रदेश सरकार ने, राज्य की बढ़ती जनसंख्या पर क्रान्तिकारी व त्वरित कार्यवाही करते हुए यूपी जनसंख्या नियंत्रण  कानून 2022 अर्थात् जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft 2022 का ऐलान कर दिया है जिसके तहत राज्य में, 2 बच्चो के आदर्श सिद्धान्त को स्थापित किया जायेगा। इसलिए जनसंख्या नियंत्रण कानून क्या है? व जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 की पूरी जानकारी हम, जनसंख्या नियंत्रण कानून पर लेख में, प्रस्तुत करेंगे।

यूपी जनसंख्या नियंत्रण कानून 2021

आप सभी जानते है कि, भारतवर्ष में, लगातार कितनी तेज़ी से जनसंख्या बढ़ती जा रही है और अकेले भारत के सबसे बड़े राज्य अर्थात् उत्तर प्रदेश में, जनसंख्या का किस प्रकार से विस्फोट हो रहा है जिसकी वजह से ना केवल लोगो के जीवन स्तर में, कटौती हो रही है बल्कि सरकारी संसाधनों की भी भारी खपत के बाद लोगो की मौलिक जरुरत पूरी नहीं हो पा रही है जिसकी वजह से स्थिति बेहद संवेदनशील बन गई है।

अन्त, जनसंख्या नियंत्रण कानून को समर्पित अपने इस लेख में, हम अपने सभी उत्तर प्रदेशवासियों को विस्तार से यूपी जनसंख्या कानून 2022 अर्थात् जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft 2022-2030  की पूरी जानकारी प्रदान करेंगे ताकि आप सभी इस कानून व ड्राफ्ट को करीब से समझ करें और इसके लाभों को प्राप्त कर सकें क्योंकि यही हमारे इस आर्टिकल का मौलिक लक्ष्य है।

जनसंख्या नियंत्रण कानून क्या है?

कहा जाता है कि किसी भी चीज या चीज की अधिकता हमेशा हानिकारक होती है, यदि सामान्य लोगों की कुल संख्या यानी जनसंख्या पर भी यही सिद्धांत लागू किया जाए, तो सिद्धांत सटीक है क्योंकि बढ़ती जनसंख्या का मतलब संसाधनों, अवसरों की बड़ी मांग है। साथ ही उच्च जीवन स्तर की भारी मांग को पूरा करना किसी भी देश या सरकार के लिए आसान नहीं है।

अन्त, जब अलग – अलग देश व देशों की सरकार अपने देश व राज्यों में, लगातार हो रहें जनसंख्या विस्फोट पर नियंत्रण लगाने के लिए कोई कानून बनाती है तो उसे ही संक्षिप्त में,’’ जनसंख्या नियंत्रण कानून ’’ कहा जाता है जिसका सीधा-सा अर्थ होता है कानून के द्धारा राज्य की बढ़ती जनसंख्या को नियंत्रित करने का एक कानूनी प्रयास।

यूपी जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 – कब लांच किया गया?

हम, अपने सभी उत्तर प्रदेशवासियों व विशेषकर उत्तर प्रदेश के युवाओं व अन्य लोगो को जिनकी शादी नहीं हुई है या फिर जिनकी शादी हो गई है लेकिन बच्चे नहीं है उनके लिए बेहद खास है क्योंकि योगी सरकार द्धारा जारी यूपी जनसंख्या कानून 2022 के तहत 2 बच्चो के मौलिक सिद्धान्त को प्राथमिकता दी गई है।

आपको बता दें कि, बीते रविवार अर्थात् 11 जुलाई, 2021 को उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्धारा आधिकारीक तौर पर यूपी जनसंख्या कानून 2022 अर्थात् जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft 2022-2030  को जारी कर दिया गया है जिसके तहत अनुसार राज्य की लगातार बढ़ती जनसंख्या को नियंत्रित करने का प्रयास किया जायेगा ताकि सभी उत्तर प्रदेशवासियों को उनकी मौलिक जरुरतों की पूर्ति की जा सकें और उन्हें एक बेहतर जीवस्तर प्रदान करने के साथ ही साथ उनके उज्जवल भविष्य का निर्माण किया जा सकें।

जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft – बड़ी बातें

आइए अब हम, अपने सभी उत्तर प्रदेशवासियो व युवाओं को विस्तार से जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft से जुड़ी कई बड़ी बातों के बारे में, बताना चाहते हैं जो कि, इस प्रकार से हैं-

  1. जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft

बीते 11 जुलाई, 2021 को उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने, आधिकारीक तौर पर राज्य में, बढ़ती जनसंख्या को सख्ती से निंयत्रित करके प्रत्येक उत्तर प्रदेशवासी को एक बेहतर जीवन स्तर प्रदान करने के लिए जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft 2022-2030  को आधिकारीक तौर पर लांच कर दिया है जिसके तहत राज्य की जनसंख्या को नियंत्रित करके यू.पी के लोगों का सतत विकास किया जायेगा।

  1. जनसंख्या नियंत्रण के अवसर पर क्या कहा योगी ने?

11 जुलाई, 2021 अर्थात् विश्व जनसंख्या नियंत्रण दिवस के मौक पर योगी जी ने, कहा कि, ’ पूरा विश्व इस समय बढ़ती जनसंख्या पर चिन्ता जता रहा है जिस पर पिछले कई दशकों से चर्चाओं व अन्य कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता रहा है लेकिन कोई सार्थक परिणाम नहीं निकला है।

उन्होंने कहा कि, जनसंख्या नियंत्रण के लिए आम जनता के बीच जागरुकता बेहद जरुरी है और इसी संदर्भ में, उन्होंने जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft 2022-2030  का उल्लेख करते हुए कहा कि, इस नई नीति से समाज के सभी वर्गो व तबको का सतत व सर्वांगिन विकास होगा व सभी के जन-जीवन में, खुशहाली आयेगी।’

इसके साथ ही योगी जी ने, कहा कि, बढ़ती जनसंख्या विकास की सबसे बड़ी बाधा है जिसका हमें, एक सफल समाधान करना होगा।’

  1. जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft 2022-2030 – बच्चा एक, फायदें अनेक

हम, राज्य के अपने उन भी परिवारों को सूचित करना चाहते है जिन्होंने केवल 1 बच्चे के सिद्धात का पालन करते हुए 1 बच्चे के बाद नसबंदी करवा ली है उन्हें विशेष सुविधायें प्रदान की जायेगी जैसे कि –

  • इन परिवारों व दम्पतियों को स्वास्थ्य सुविधायें प्रदान की जायेगी,
  • यदि इस दम्पति की पहली संतान लड़का है तो उन्हें आर्थिक सहायता के तौर पर 80,000 रुपय और यदी लड़की है तो उन्हें 1,00,000 रुपयों की आर्थिक सहायता प्रदान की जायेगी,
  • इन दम्पतियों के बच्चो को उनकी 20 साल की आयु पूरी होने तक बीमा करवेज प्रदान कि जायेगा,
  • उच्च शिक्षा संस्थानों में, दाखिले के दौरान लाभ प्रदान किया जायेगा,
  • राज्य स्तरीय सभी सरकारी नौकरीयों में, ’’ एकल बच्चा सिद्धान्त ’’ को प्राथमिकता प्रदान की जायेगी और
  • वहीं जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft 2022-2030 के तहत 1 बच्चा सिद्धान्त के तहत जन्मे बच्चे को ग्रेजुऐशन तक की मुफ्त शिक्षा प्रदान की जायेगी ताकि उनका सतत शैक्षणिक विकास हो सकें आदि।

उपरोक्त बिंदुओ की मदद से हमने आपको जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft 2022-2030 के तहत 1 बच्चा सिद्धान्त के पालनकर्ता दम्पतियों को मिलने वाले लाभों की जानकारी प्रदान की।

  1. यूपी जनसंख्या कानून 2022 – लक्ष्य क्या है?

हम, आप सभी को बता दें कि, यूपी जनसंख्या कानून 2022 के तहत कुछ मौलिक लक्ष्यों को स्थापित किया गया है जिसे प्राप्त करने की राज्य सरकार द्धारा पूरी कोशिश की जायेगी जो कि, इस प्रकार से हैं-

  • इस समय राज्य की वर्तमान जनसंख्या कुल 23 करोड़ है,
  • राज्य की जन्म दर, राष्ट्रीय औसत से 2.2 प्रतिशत अधिक है और
  • साल 2000 में, आई जनसंख्या नीति के तहत जन्म दर 2.7 प्रतिशत है जिसे साल 2026 तक 2.1 तक लाने का मौलिक लक्ष्य रखा गया है आदि।

उपरोक्त लक्ष्यों को प्राप्त करने का पूरा प्रयास राज्य सरकार द्धारा किया जायेगा।

  1. 2 बच्चो के सिद्धान्त को मिलेगी प्राथमिकता

जनसंख्या नियंत्रण कानून 2021 draft की सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि, इस ड्राफ्ट के तहत राज्य में, 2 बच्चो के मौलिक सिद्धान्त को स्थापित करके उन्हें प्राथमिकता प्रदान की जायेगी जिसकी सभी बड़ी बातें कुछ बिंदुओं के रुप में, इस प्रकार से हैं-

  • 2 बच्चो वाली दम्पति को सरकारी नौकरी में, अनेको प्रकार के लाभ प्रदान किये जायेंगे,
  • जिन दम्पति की 2 से अधिक संतान होगी उन्हें सरकार नौकरी प्रदान नहीं की जायेगी अर्थात् उन्हें सरकारी नौकरी हेतु अयोग्य घोषित कर दिया जायेगा,
  • वहीं दूसरी तरफ जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft 2022-2030 की विशेष बात ये है कि, जिस परिवार में, बच्चो की संख्या 2 से अधिक है उनके राशन कार्ड में, केवल 4 सदस्यों को ही राशन प्रदान किया जायेगा,
  • 2 से अधिक बच्चो वाले परिवारों को किसी भी प्रकार की सब्सिडी प्रदान नहीं की जायेगी,
  • जैसे ही, जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft को लागू किया जायेगा वैसे ही सभी सरकारी व स्थानीय कार्यालयों में, जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft 2022-2030 के नियमों का पालन करने हेतु एक शपथ पत्र देना होगा जिसके तहत यदि वे शपथ पत्र देने के बाद 3 बच्चे को जन्म देते है तो ना केवल उनका प्रमोशन रोका जायेगा बल्कि उन्हें सरकारी नौकरी से भी हटा दिया जायेगा आदि।
  1. 2 बच्चो वाले परिवारो को मिलेगी विशेष सुविधायें?

जी हां, जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft में, ये स्पष्ट उल्लेख किया गया है कि, जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft के अनुसार 2 बच्चो वाले परिवारों को कुछ विशेष सुविधाओं का लाभ मिलेगा जैसे कि –

  • ’’ हम दो, हमारे दो ’’ के सिद्धान्त का पालन करने वाले व स्वैच्छिक रुप से नसबंदी करने वाले दम्पतियों को विशेष सरकारी सुविधायें प्रदान की जायेगी,
  • इस प्रकार के कर्मचारीयों को सरकारी नौकरी में, 2 Extra Salary Increment प्रदान की जायेगी,
  • प्रमोशन दिया जायेगा,
  • गर्भवती सरकारी महिला कर्मचारीयों को मातृत्व और पुरुष सरकारी कर्मचारीयों को पितृत्व के लिए कुल 12 महिनों का अवकाश प्रदान किया जायेगा,
  • जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft 2022-2030 के तहत जीवनसाथी को बीमा कवरेज प्रदान किया जायेगा,
  • तमाम सरकारी आवासीय योजनाओँ में, छूट प्रदान की जायेगी और
  • साथ ही साथ ऐसे आम नागरिक जो कि, 2 बच्चो के सिद्धान्त का पालन करते है लेकिन उनके पास सरकारी नौकरी नही हैं उन्हें जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft के तहत पानी, बिजली व होम-लोन आदि में, रियायत प्रदान की जायेगी आदि।

उपरोक्त सभी बिंदुओं की मदद से हमने आप सभी को जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft के सकरात्मक बिंदुओं की जानकारी प्रदान की।

निष्कर्ष

अन्त, जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 draft 2022-2030 को समर्पित अपने इस आर्टिकल में, हमने अपने सभी उत्तर प्रदेशवासियों को विस्तार से जनसंख्या कानून 2022 ।। जनसंख्या नियंत्रण कानून 2022 की पूरी जानकारी प्रदान की ताकि आप सभी इस कानून का ईमानदारी से पालन करके इस कानून का लाभ प्राप्त कर सकें और अपना व अपनो के उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकें और यही हमारे इस आर्टिकल क मौलिक लक्ष्य है।

अन्त, हमें आशा कि, आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा व आर्टिकल में दी गई जानकारी आपके लिए मददगार साबित हुई होगी जिसके लिए ना केवल आप हमारे इस आर्टिकल को लाइक करेंगे बल्कि अधिकाधिक मात्रा में, शेयर करके अपने विचार व सुझाव कमेंट करके हमें, बतायेंगे ताकि हम, इसी तरह के आर्टिकल आपके लिए प्रस्तुत कर सकें।

आशा करते हैं हमारे द्वारा बताई गई जानकारी आपको लाभदायक साबित हुई होगी इसी प्रकार की और जानकारी के लिए आप हमसे ऐसे ही जुड़े रहिये और अपनी राय हमें कमेंट करके ज़रूर बताई इससे हमें भविष्य में और बेहतर कंटेंट लाने में सहायता मिलती है , धंन्यवाद।

Leave a Comment