Amrit Yojana 2023 | Registration | अमृत योजना आवेदन, सुधार, रिफॉर्म

Amrit Yojana 2023 | Registration | अमृत योजना आवेदन, सुधार, रिफॉर्म

Amrit Yojana 2023:

अमृत योजना ऑनलाइन आवेदन 2023 | Amrit Yojana 2023 Online Registration Form/Sudhar/Reform | Amrit Yojana Kya Hai In Hindi | अमृत योजना क्या है?

जैसा कि आप सब लोग जानते हैं कि भारत सरकार देश के नागरिकों के लिए बहुत सारी नई योजनाओं की शुरुआत करती रहती है। जिनमें से एक अमृत योजना है। जिसका पूरा नाम अटल मिशन ऑफ ग्रेजुएशन एंड अर्बन ट्रांसफॉरमेशन है। यह योजना शहरी परिवर्तन के लिए पर्याप्त बुनियादी सुविधाएं जैसे सीवरेज नेटवर्क एवं पानी की आपूर्ति आदि प्राप्त करवाई जाएंगी। जिसके बारे में आज हम आपको अपने इस लेख में पूरी जानकारी प्रदान करेंगे। और साथ ही आज हम आपको इस योजना की रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया,  उद्देश्य लाभ एवं विशेषताएं और योग्यता एवं कागजात आदि के बारे में कुछ जानकारियां प्रदान करेंगे। जिससे आप इस योजना के लिए आवेदन करके इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

अमृत योजना क्या है?

अमृत योजना 2023 मध्यप्रदेश/राजस्थान/महाराष्ट्र: अमृत योजना के कार्यान्वयन के लिए सरकार ने 39.2 लाख रुपए का बजट निर्धारित किया है। इस योजना के तहत शहरी क्षेत्रों के पार्क भी विकसित किए जाएंगे। और साथ ही सार्वजनिक परिवहन में भी सुधार लाने का प्रयास किया जाएगा। इस योजना के प्रथम चरण में 500 शहरी क्षेत्रों को कवर किया जाएगा। अमृत योजना का लक्ष्य शहरों में बेहतर बुनियादी ढांचा प्रदान करना और नागरिकों के जीवन स्तर में सुधार लाना है। खासकर गरीबों के। सरकार ने इस योजना के लिए जो बजट निर्धारित किया था। उसमें से शहरी सड़कों के लिए 17.3 लाख करोड़ एवं पानी की आपूर्ति, सीवरेज, ठोस अपशिष्ट प्रबंधन तथा वर्षा जल निवासी जैसी सेवाओं के लिए 8 लाख करोड़ शामिल है। इसके साथ ही प्रचलन एवं अनुरक्षण के लिए 19.9 लाख करोड़ का अनुमान अलग से लगाया गया है।

अमृत योजना की शुरुआत कब हुई?

अमृत योजना की शुरुआत भारत सरकार द्वारा वर्ष 2011 में की गई है। इस योजना के माध्यम से शहरी क्षेत्रों के लोगों के घरों में बुनियादी सुविधाएं प्रदान कराई जाएंगी। जैसे पानी की आपूर्ति, सीवरेज और शहरी परिवहन आदि। अमृत योजना को देश के गरीब नागरिकों के जीवन स्तर में सुधार लाने के लिए शुरू किया गया है। और

अमृत योजना 2023 का उद्देश्य

अमृत योजना का उद्देश्य है कि देश के शहरी क्षेत्रों के नागरिकों को बुनियादी सुविधाएं प्रदान करवाना है। जिनमें पानी की आपूर्ति, सीवरेज एवं शहरी परिवार आदि शामिल हैं। सरकार द्वारा शुरू की गई अमृत योजना के मध्यम से गरीबों के जीवन स्तर में सुधार लाना है। और साथ ही आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों को सुविधा प्रदान करने में प्राथमिकता दी जाएगी। इस योजना के तहत देश के नागरिकों को पार्कों, स्ट्रांम वाटर ड्रेनेज और अर्बन ट्रांसपोर्ट को विकसित किया जाएगा। अमृत योजना का उद्देश्य देशभर में से चुने गए 500 शहरों को कुशल शहर में बदलना है।

अमृत योजना 2023 के तहत जिन्हें शामिल किया जाएगा:

  • राजधानी शहर/ राज्यों के कस्बे/संघ राज्य क्षेत्र यह सभी इस योजना के लिए शामिल नहीं किए गए हैं।
  • 75000 से ज्यादा एवं एक लाख से कम जनसंख्या वाले 13 शहरों जो मुख्य नदियों के किनारे कस्बे हैं।
  • छावनी बोर्ड (सिविलियन क्षेत्र) सहित अधिसूचित नगर पालिकाओ साहित्य शहर एवं कस्बे।
  • पर्वतीय राज्यो, दीप समूह तथा पर्यटन स्थलों से 10 शहर (प्रत्येक राज्य) से एक से अधिक शहर शामिल नहीं किए जाएंगे।
  • हृदय स्कीम के अंतर्गत शहरी विकास मंत्रालय के द्वारा विरासत शहरों के रूप में वर्गीकृत सभी शहर एवं कस्बे।

[रजिस्ट्रेशन] UP Pankh Portal 2023

अमृत योजना का बजट कितना है?

अमृत योजना के तहत ₹100000 तक का बजट निर्धारित किया गया है। जिसमें ₹50,000 करोड़ केंद्र सरकार के द्वारा दिए गए हैं। और बचा हुआ हिस्सा सर सरकार द्वारा दिए गए हैं। इस योजना में बजट के चार भाग हैं। जो निम्नलिखित इस प्रकार है।

  • प्रशासनिक तथा कार्यालय व्यय (ए एंड आई) के लिए शहरी विकास मंत्रालय राज्य की निधि वार्षिक बजट आवंटन के 80%।
  • सुधारों के लिए प्रोत्साहन वार्षिक बजट आवंटन के 10%।
  • प्रशासनिक एवं कार्यालय व्यय (ए एंड आई) के लिए राज्य की निधि वार्षिक बजटीय आवंटन के 80%।
  • परियोजनाओं निधि वार्षिक बजटीय आवंटन के 80%।

Amrit Yojana के मुख्य बिंदु

  • विभिन्न स्थानों पर बस रैपिड ट्रांसपोर्ट सिस्टम की स्थापना की जाएगी।
  • इस परियोजना का हर क्षेत्र में नियमित रूप से ऑडिट किया जाएगा। जैसे पानी का बिल, बिजली का बिल और हाउस टैक्स आदि।
  • प्रभावी बाढ़ जल निकासी प्रणाली का निर्माण एवं रखरखाव करना जिससे बाढ़  द्वारा होने वाली तबाही को रोका जा सके।
  • अमृत योजना से प्राप्त होने वाली सुविधाएं ई गवर्नेंस के द्वारा सुनिश्चित की जाएंगी।
  • जल संसाधनों की पुनरावृति करना और अपशिष्ट जल का पुनः प्रयोग में लाना।
  • जलापूर्ति प्रणालियों का निर्माण और रखरखाव करना। आदि।

Amrit Yojana का लक्ष्य क्या है?

  • अमृत योजना के अंतर्गत “पेयजल सर्वेक्षण” शुरू किया जाएगा। से शहरों में प्रतिस्पर्धा को बढ़ाने में मदद मिलेगी।
  • अमृत योजना के तहत हर एक नागरिक को पानी और सीवरेज सुविधाएं भी दी जाएंगी।
  • इस योजना के अंतर्गत शहरों में 2.68 नल कनेक्शन किए जाएंगे। और 500 अमृत शहरों में सीवरेज तथा सेफ्टीज का शत-प्रतिशत कवरेज किया जाएगा।
  • सरकार द्वारा इस योजना के लिए 2.87 लाखों करोड़ों रुपए का खर्च किया जाएगा।
  • देश के शहरी क्षेत्रों के 10.5 करोड़ लोगों को इस योजना का लाभ प्राप्त होगा।
  • अमृत योजना का लक्ष्य सभी घरों में पेयजल की आपूर्ति करना है।

अमृत योजना का क्या लाभ है?

  • अमृत योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2011 की गई थी।
  • अमृत योजना के अंतर्गत देश के शहरी क्षेत्रों के लोगों को बुनियादी सेवाएं प्राप्त की जाएंगी।
  • इस योजना के अंतर्गत जो सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। वह जल की आपूर्ति, सीवरेज एवं शहरी परिवर्तन आदि है।
  • अमृत योजना के माध्यम से देश के नागरिकों के जीवन स्तर को सुधारने में भी मदद मिलेगी।
  • देश के आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों को इस योजना के तहत प्राथमिकता दी जाएगी।
  • अमृत योजना के अंतर्गत पार्क भी विकसित किए जाएंगे।
  • अमृत योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा सन 2015 में की गई है।

अमृत योजना के लिए योग्यता क्या है?

  • आवेदक भारतवासी होना चाहिए।
  • सरकार द्वारा गरीब रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले। और आस्था कार्ड धारक परिवारों की जारी की गई सूची उल्लेखित परिवार का मुखिया की आयु।
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष से 59 वर्ष (दोनों तिथियां सम्मिलित और आयु पिछले जन्मदिन पर) के बीच की होनी चाहिए।

Required Documents of Amrit Yojana 2023

  • वोटर आईडी
  • एनएफएसए कार्ड
  • डॉक्टर द्वारा अटेस्टेड
  • ईपीआईसी कार्ड
  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • मृत्यु प्रमाण पत्र – सामान्य और दुर्घटना की दिशा में मृत्यु होने पर
  • पोस्टमार्टम रिपोर्ट दुर्घटना के कारणों मृत्यु की दिशा में
  • प्रथम सूचना रिपोर्ट – दुर्घटना के कारण मृत्यु/ स्थाई अपंगता की दशा में
  • पुलिस अवें  रिपोर्टदुर्घटना के कारण मृत्यु स्थाई अपंगता की दिशा में

Amrit Yojana की सुधार प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको अटल नवीनीकरण एवं शहरी परिवर्तन मिशन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इस वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • जिस पर आप को सुधार के सेक्शन में दिखाई देगा।
  • जिस पर आप को सुधार के बारे में के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • इस पर क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • अब इस पेज पर आप को सुधार से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त हो जाएंगी।

राज्य नोडल अधिकारियों की प्रक्रिया

  • अधिकारियों की सूची देखने के लिए सबसे पहले आपको अटल नजदीकी करण और शहरी परिवर्तन मिशन के आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको हम से संपर्क करें के सेक्शन पर देखना है।
  • यहां आपको राज्य नोडल अधिकारी के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक और नया पेज खुल जाएगा।
  • यहां आपको अपने राज्य के अधिकारी से संबंधित संपर्क विवरण प्राप्त हो जाएगा।
  • इस तरह आप अधिकारीयो से संपर्क कर सकते हैं।

अमृत योजना मिशन सिटी की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको अमृत योजना कि अधिकारीक वेबसाइट पर जाना होगा। यहा आपके सामने एक होम पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको About AMRUT  सेक्शन के  List of Mission Cities ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही मिशन सिटी की सूची आप के सामने आ जाएगी।

रिफॉर्म की प्रक्रिया

  • इसके लिए आपको इसके आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक होम पेज खुल जाएगा।
  • जिस पर आपको Reform सेक्शन के List of Reform के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज ओपन हो जाएगा।
  • इस तरह आप रिफॉर्म की सूची देख सकते हैं।

Amrit Yojana 2023 Helpline Number

अमृत योजना से संबंधित कोई भी जानकारी प्राप्त करने में अगर आपको कोई समस्या उत्पन्न हो रही है तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके पूछ सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर 1800 102 7480 है।

FAQs

अमृत योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है?

अमृत योजना का मुख्य उद्देश्य गरीब नागरिकों को सहायता प्रदान करना है।

अमृत योजना का पूरा नाम क्या है?

अमृत योजना का पूरा नाम अटल मिशन ऑफ ग्रेजुएट एंड अर्बन ट्रांसफॉरमेशन है।

Amrit Yojana के लिए कितना बजट निर्धारित किया गया है?

अमृत योजना के लिए 50,000 करोड़ रुपए बजट निर्धारित किए गए हैं

Leave a Comment