{आवेदन फॉर्म} राजस्थान शुभ शक्ति योजना 2020 | Shubh Shakti Yojana Form

Shubh Shakti Yojana Form 2020

हम अपने इस लेख के माध्यम से आपको सभी राजस्थान के वासियों को सूचित करना चाहते हैं कि, अब सरकार आपके लिए कल्याणकारी योजनाओं को आपके घर के दरवाजे तक लेकर आ गई हैं। राजस्थान की बेटियों के लिए एक ऐसी योजना का शुभारम्भ किया जा रहा हैं जिसके तहत मजदूर वर्ग और आर्थिक तौर पर कमजोर वर्गो की बेटियों की शादी पैसो की वजह से ना रुकने पाये और उनकी शादी भी बेहद धूम-धाम से हो इसके लिए जिस योजना का शुभारम्भ राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्धारा किया जा रहा हैं इस योजना का नाम हैं,’’ राजस्थान शुभ शक्ति योजना 2020 ’’। इस योजना के तहत राजस्थान सरकार बेटियों की शादी और पढाई के लिए 55,000 रुपयों की आर्थिक मदद देगी ।

राजस्थान शुभ शक्ति योजना 2020

राजस्थान शुभ शक्ति योजना 2020: 

हम कहना चाहते हैं कि, इस योजना से तस्वीर लगातार बदल रही हैं और अभी और बदलेगी। इस योजना के तहत हमारी मजदूर वर्ग की बेटियों को और आर्थिक तौर पर कमजोर घर में बेटियों को बोझ समझा जाता था और जब उनकी शादी की बात आती हैं तब हमारी बेटियां अपने परिवारो और भी ज्यादा भारी बोझ बन जाती हैं। राजस्थान की बेटियों के माथे पर से इस बोझ के घब्बे को हटाने के लिए ही इस योजना की शुरुआत की गई हैं जिसके तहत हमारी गरीब घर की बेटियों और मजदूर वर्ग की बेटियों की शादी धूम-धाम से हो सके और उन्हें एक बेहतर भविष्य मिल सके साथ ही वो अपने परिवारों पर बोझ नहीं बल्कि एक नई सोच बन सकें।

राजस्थान में बेटियो की दुर्दशा का इतिहास-

हम सभी इस तथ्य से भली-भांति परिचित हैं कि, राजस्थान में बेटियों के साथ हमारे इतिहास में क्या-क्या हुआ हैं?

राजस्थान में बेटी के जन्म को एक अशुभ संकेत माना जाता था और बेटी को घर का विनाश करने वाली अशुभ संतान माना जाता था उन्हें पढ़ाई-लिखाई को मौका नहीं दिया जाता था और घर की चार-दिवारी मे ही कैद रखा जाता था जिसके वजह से वे ना तो अपना ही विकास कर पाती थी और ना अपने भविष्य का।

Read: {आवेदन} बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना 2020

राजस्थान में बेटियों के साथ हुआ अन्याय-

राजस्थान में बेटियों के साथ कितना अन्याय हुआ हैं इसके महसूस कराने के लिए हम कुछ बिंदुओं का सहारा लेंगे जो कि, इस प्रकार हैं-

  1. बेटियों को बोझ की संज्ञा दी गई,
  2. बेटियों की गर्भ में ही हत्या अर्थात् भ्रूण हत्या की गई,
  3. बेटियों को घर की चार-दिवारी तक ही सीमित कर दिया गया,
  4. बेटियों को बेहतर शिक्षा से वंचित किया गया,
  5. दहेज के कारण अधेड़ उम्र के व्यक्ति से ब्याह दी जाती थी हमारी बेटिया।

उपरोक्त बिंदुओं का सहारा हमने इसलिए लिया हैं ताकि राजस्थान सरकार द्धारा उठाये गये इस कदम के मायनो को समझा जा सकें।

राजस्थान सरकार द्धारा बेटियों के सशक्तिकरण कि दिशा में बड़ा ऐलान –

इस योजना के तहत राजस्थान की बेटियों का सशक्तिकरण किया गया हैं क्योंकि अब उन्हें और खासकर उनके पहले से ही कर्ज से दबे माता-पिता को अब अपनी बेटी की शादी और पढाई कि चिन्ता नहीं करनी पड़ेगी क्योकि इसके लिए राजस्थान की सरकार द्धारा उन्हें शुभ शक्ति योजना के तहत राशि मुहैया कराई जायेगी जिससे वे अपनी बेटी की शादी और पढ़ाई बिना किसी कर्ज के कर पायेगे।

बोझ नहीं, नई सोच हैं बेटी-

इस योजना की सबसे बडी सफलता यही हैं कि, इस योजना ने बेटियों को बोझ के भाव से मुक्त कर उन्हें एक नई सोच का दर्जा दिया हैं जिसकी वजह से हमारी बेटियां भी आकाश की बुलदियों को छू सकेगी।

वही हमारे माता-पिता भी अपनी बेटियों की शादी-ब्याह और पढ़ाई-लिखाई की चिन्ता से मुक्त हुए हैं जिसके कारण वे अब घर में बेटी के आने पर दुखी या चिन्तित नहीं बल्कि खुशी प्रकट करते हैं जो कि, एक सकारात्मक बदलाव हैं जिसका हमें स्वागत करना चाहिए।

Read: {आवेदन} UP Shadi Anudan 2020

राजस्थान शुभ शक्ति योजना का लाभ-

इस योजना के कुछ मूलभूत लाभों को इस तरह से प्रस्तुत किया जा सकता हैं जो कि, इस प्रकार हैं-

  1. बोझ नहीं, नई सोच हैं बेटी जैसे क्रान्तिकारी बदलाव आया,
  2. माता-पिता आर्थिक कारणों से अपनी बेटी के शादी-ब्याह और पढाई-लिखाई को बोझ नहीं समझेगे,
  3. पैसो की कमी के कारण या फिर दहेज के कारण हमारी बेटियो की शादी किसी बुजुर्ग व्यक्ति से नहीं कि जायेगी,
  4. हमारी बेटी अपनी पसंद की शिक्षा और अपने वर का चुनाव कर पायेगी,
  5. आर्थिक कारणों से हमारी बेटी सौदे की वस्तु नहीं बनेगी आदि,
  6. राजस्थान सरकार अपनी बेटियों की शादी और पढाई के लिए 55,000 रुपयों की आर्थिक मदद देगी,
  7. इससे राजस्थान में ही बालिक भ्रूण-हत्या के मामलो में कई आयेगी,
  8. सरकार का कहना हैं कि, इस योजना की तहत दी गई राशि का प्रयोग हमारी बेटिया और महिलायें अपने व्यवसाय और अपनी शिक्षा में कर सकती हैं,
  9. सरकार द्धारा दी गई राशि से हमारी बेटियां कोई कौशल अर्जित कर सकती हैं।

उपरोक्त लाभो की वे सूची हैं जिनसे हमारी राजस्थान की बेटियों का भविष्य उज्जवल होगा।

इन मानदंड़ो पर तय होगी पात्रता-

राजस्थान सरकार द्धारा शुभ शक्ति योजना के तहत पात्रता को तय करने के लिए जो मानदंड तय किये गये हैं उनकी पूरी सूची इस प्रकार हैं-

  1. इस योजना की पात्रतानुसार बालिका राजस्थान की मूल-निवासी होनी चाहिए,
  2. बालिका के माता-पिता कम से कम एक साल से मण्डल में पंजीकृत होने चाहिए,
  3. इस योजना का लाभ लेने के लिए कम से कम परिवार में 2 बेटियो का होना जरुरी हैं,
  4. लाभार्थी के पास बैंक खाता होना चाहिए,
  5. योजना का लाभ तभी मिलेगा जब बालिका की आयु 18 वर्ष हो और यदि कोई महिला इसका लाभ लेना चाहती हैं तो उसका अविवाहित होना जरुरी हैं,
  6. लाभार्थी का अगर अपना पक्का घर हैं तो उसमें शौचालय का होना जरुरी हैं,
  7. योजना में आवेदन करने से पहले लाभार्थी के माता-पिता ने कम से कम 90 दिनो तक काम किया हो आदि।

उपरोक्त मानदंडो के आधार पर ही आपकी पात्रता तय की जायेगी।

Read: Pradhan Mantri Awas Yojana Online Registration 2020

इस योजना का लाभ लेने के लिए चाहिए ये कागजात-

इस योजना का लाभ लेने के लिए इच्छुक नागरिकों को निम्न कागजातो की जरुरत पड सकती हैं जिनकी सूची इस प्रकार हैं-

  1. आधार कार्ड व भामाशाह प्रमाण पत्र,
  2. मूल-निवासी प्रमाण पत्र,
  3. डोमिसाइल होना चाहिए,
  4. 10वी कक्षा का प्रमाण पत्र होना चाहिए,
  5. परिवार की आय का प्रमाण पत्र होना चाहिए,
  6. बालिका की आयु प्रमाण पत्र,
  7. जाति प्रमाण पत्र,
  8. बी.पी.एल राशन कार्ड होना चाहिए,
  9. बैंक पासबुक के प्रथम पृष्ट की नकल होनी चाहिए।

उपरोक्त कागजातो की जरुरत इस योजना में आवेदन करने के लिए पड़ सकती हैं।

दो तरहो से कर सकते हैं आवेदन-

अपनी बेटियों की सुलभता के लिए इस योजना में आवेदन कि पूरी प्रक्रिया को दो भागो में बांटा गया हैं ताकि योजना के इच्छुक लोग अपनी सुविधानुसार इस योजना में आवेदन कर सकें। इस योजना में आवेदन की प्रक्रिया के दो भाग इस प्रकार हैं-

Read: एक परिवार एक नौकरी योजना (Apply)

  1. आवेदन की ऑनलाईन प्रक्रिया-

इस योजना में आवेदन करने कि पहली प्रक्रिया ऑनलाईन रखी गई हैं जिसके लिए आप इस तरह से आवेदन कर सकते हैं-

  • सबसे पहले हमारे इच्छुक उम्मीदवारों को इसकी आधिकारीक वेबसाइट पर जाना होगा जिसका लिंक इस प्रकार हैं- http://labour.rajasthan.gov.in/SchemeReport.aspx,
  • इसके बाद अगले पेज पर ’’ योजना में आवेदन करें ’’ का विकल्प मिलेगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा,
  • इसके बाद आपको शुभ शक्ति योजना का एक फॉर्म प्राप्त हो जायेगा जिसे आपको बेहद सावधानीपूर्वक भरना होगा,
  • फॉर्म को भरने के बाद उसके साथ सभी जरुरी कागजातों की स्कैन फाइल को संलग्न करें,
  • इसके बाद आप सबमिट पर क्लिक कर दें और उसकी एक नकल अपने पास सुरक्षित रख लें।

उपरोक्त प्रक्रिया के द्धारा आप इस योजना में ऑनलाईन आवेदन कर सकते हैं।

Read:कन्या सुमंगला योजना 2020 (Apply)

  1. आवेदन की ऑफलाईन प्रक्रिया-

इस योजना में आवेदन करने के लिए ऑफलाईन प्रक्रिया को भी बराबर का दर्जा दिया गया हैं इससे उम्मीदवारो को एक विकल्प मिल जाता हैं। आवेदन करने के लिए आवेदन की ऑफलाईन प्रक्रिया कुछ इस तरह से हैं-

  • इस योजना में आवेदन करने के लिए आपको करीबी श्रम विभाग में जाना होगा,
  • वहां से शुभ शक्ति योजना का फॉर्म लेना होगा,
  • आप इस योजना को ऑनलाईन भी डाउनलोड कर सकते हैं जिसका लिंक इस प्रकार हैं- https://www.hindisarkariyojana.in/wp-content/uploads/2020/03/shubh-shakti-form_online.pdf
  • फॉर्म को बेहद ध्यानपूर्वक भरे,
  • फॉर्म को भरने के बाद उसके साथ अपने सभी जरुरी कागजातो की प्रतियां भी संलग्न करें,
  • अन्तिम चरण में इस फॉर्म को ले जाकर श्रम विभाग में जमा करा दें।

इस प्रकार आप इस योजना के लिए ऑफलाईन भी आवेदन कर सकते हैं।

यदि आपने किया हैं आवेदन तो जरुर जाने अपने आवेदन की स्थिति-

यदि आपने इस योजना में आवेदन किया हैं तो आपको अपने आवेदन की स्थिति जरुर जाननी चाहिए औऱ उसे जानने की पूरी प्रक्रिया हम आपके सामने रख रहे हैं जो कि, इस प्रकार हैं-

  1. आवेदन की स्थिति जानने के लिए सबसे पहले आपको इसकी आधिकारीक वेबसाइट पर जाना होगा जिसका लिंक इस प्रकार हैं- http://labour.rajasthan.gov.in/SchemeReport.aspx,
  2. इसके बाद आप अपने जिले का चयन करें,
  3. ग्रामीण और शहरी में से किसी एक क्षेत्र का चयन करें,
  4. इसके बाद आप अपनी आवेदन संख्या दर्ज करें,
  5. इसके बाद खुलने वाले पेज पर आपका नाम और आपकी आवेदन संख्या देखने को मिलेगी।

इस प्रकार आप सरलता से अपने आवेदन की स्थिति को जांच सकते हैं और परिस्थिति के अनुसार कदम उठा सकते हैं।

अधिक जानकारी के लिए सम्पर्क कर सकते हैं इन नंबरो पर –

                                               इस योजना से संबंधित किसी भी जानकारी या फिर अधिक जानकारी के लिए आर योजना के अधिकारीयों द्धारा जारी नंबरो पर सम्पर्क कर सकते हैं-

  1. नि-शुल्क नंबर – 1800 1800 999
  2. फैक्स नंबर – 91 141 2450782
  3. ई-मेल आई.डी – raj@gmail.com

उपरोक्त नंबरो पर या फिर दिए गये ई-मेल पर सम्पर्क करके आप सरलता से इस योजना से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

अन्त, इस योजना का लाभ उठाये और अपनी बेटियो को खुद उनका भविष्य बनाने दें।

इसे भी पढ़े…

हरयाणा योजना बिहार योजना
मध्य प्रदेश योजना मध्य प्रदेश योजना
पंजाब योजना उत्तर प्रदेश योजना
मुख्यमंत्री योजना राशन कार्ड सूची
तमिलनाडु योजना आंध्र प्रदेश योजना
बंगाल योजना दिल्ली योजना
हिमाचल प्रदेश योजना गुजरात योजना

 

Leave a Comment