महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2021- Dr Babasaheb Ambedkar Swadhar Yojana

महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2021- Dr Babasaheb Ambedkar Swadhar Yojana

महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2021

हमारा आज का लेख हमारे सभी महाराष्ट्र के अनुसूचित जाति और नव बौद्ध श्रेणी का विधार्थियो के उज्जवल भविष्य के लिए महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2020 (Dr Babasaheb Ambedkar Swadhar Yojana Apply Online)  का शुभारम्भ किया गया हैं ताकि इन विधार्थियो की शिक्षा-दीक्षा को को बेहतर बनाया जा सकें और इनके सुनहरे भविष्य का निर्माण किया जा सकें।

हम अपने इस लेख में आपको इस योजना अर्थात् महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2021 की पूरी जानकारी, योजना के मुख्य तथ्यो के बारे में, योजना के तहत तय दस्तावेजो और पात्रताओं की सूची व आवेदन करने के पूरी प्रक्रिया को आपके सामने रखेंगे ताकि आप हमारे विधार्थी इस योजना का अधिक से अधिक मात्रा में लाभ ले सकें और अपने सुनहरे भविष्य का निर्माण कर सकें।

Dr Babasaheb Ambedkar Swadhar Yojana

भारत में शिक्षा एक व्यापर बन चुका हैं और इसकी वजह से शिक्षा काफी मंहगी हो गई हैं जिसके कारण हमारे कमजोर वर्ग के विधार्थी जैसे कि- अनुसूचित जाति के विधार्थी और नव बौद्ध श्रेणी के विधार्थी उचित शिक्षा प्राप्त करने से चुक जाते है और उनका भविष्य अंधेरे क हवाले हो जाता हैं।

अपने इन विधार्थियो के भविष्य को अंधेरे में जाने से बचाने के लिए और उनके सुनहरे भविष्य के सुर्योदय के लिए ही महाराष्ट्र सरकार ने इस योजना अर्थात् महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2020 की शुरुआत की हैं ताकि हमारे इन विधार्थियो को बेहतर, उचित औऱ गुणवत्तापूर्ण  शिक्षा की प्राप्ति हो सकें जिससे ये अपने भविष्य का निर्माण खुद कर सकें औऱ अफने पैरो पर खड़े हो सकें।

इस योजना के तहत अर्थात् महाराष्ट्र स्वाधार योजना के तहत 10वीं व 12वीं के अनुसूचित वर्ग के छात्रो व नव बौद्ध श्रेणी के विधार्थियो को 51,000 रुपयो का प्रतिवर्ष आर्थिक सहायता दी जायेगी ताकि हमारे विधार्थियो का भविष्य उज्जवल हो सकें।

Read: PM गरीब कल्याण रोजगार अभियान

योजना का मौलिक उद्धेश्य

योजना का मौलिक उद्धेश्य यह हैं कि, हमारी टूट चूकी शिक्षा पद्धति को फिर से दुबारा खड़ा करना औऱ एस.सी व नव बौद्ध श्रेणी के छात्रो को बेहतर शिक्षा प्रदान करके उनके भविष्य को उज्जवल बनाना हैं।

इस योजना के तहत हमारे विधार्थियो के उज्जव भविष्य का सूर्योदय होगा औऱ वे अपने पैरा पर खड़े होकर आत्मनिर्भर औऱ आत्मसशक्त बनेंगे औऱ इसी लक्ष्य की पूर्ति के लिए सरकार इन विधार्थिय़ो को 51,000 रु प्रतिवर्ष की आर्थिक सहायता दी जायेगी ताकि उन पर शिक्षा की लागत का ज्यादा बोझ ना पडे और खुले दिल-दिमाग से अपनी शिक्षा को पूरी कर सकें।

एस.सी और नव बौद्ध श्रेणी के छात्रो का होगा सशक्तिकऱण

महाराष्ट्र सरकार के इस कल्य़ाणकारी योजना का लाभ सबसे अधिक हमारे अनुसूचित जाति के विधार्थियो और नव बौद्ध श्रेणी के विधार्थियो को मिलेगा जिससे उन्हें बेहतर शिक्षा की प्राप्ति होगी औऱ उनके भविष्य के उज्जवल सूरज का उदय होगा।

योजना के तहत जारी योग्यताओ की सूची

इस योजना के तहत जिन योग्यताओं को पूरा करना होगा उनकी सूची इस प्रकार हैं –

  1. इस योजना के लिए लाभार्थी को महाराष्ट्र का स्थायी निवासी होना चाहिए,
  2. योजना के तहत लाभार्थी विधार्थी की सालाना आय 2.5 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए,
  3. 10वीं व 12वीं कक्षा के बाद हमारे विधार्थी जिस पाठ्यक्रम का चयन करते हैं उसकी अवधि कुल 2 साल से कम होनी चाहिए,
  4. आवेदन करने वाले विधार्थी पिछली कक्षा में 60 प्रतिशत अंको के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए,
  5. हमारे सभी दिव्यांग विधार्थियो के लिए इस योजना में आवेदन करने के लिए जरुरी हैं कि, पिछली कक्षा में उनके 40 प्रतिशत से अधिक अंक आये हो
  6. इस योजना के तहत महाराष्ट्र के अनुसूचित जाति के विधार्थी औऱ नव बौद्ध श्रेणी के विधार्थी ही आवेदन कर पायेंगे आदि।

उपरोक्त योग्यताओं को पूरा करने के बाद आप सरलता से इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

Read: बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना 2021

योजना के तहत जारी दस्तावेजो की सूची

योजना के तहत जिन दस्तावेजो की सूची जारी की गई हैं वे इस प्रकार हैं-

  1. आवेदन करने वाले विधार्थी के पास आधार कार्ड व पहचान पत्र होना चाहिए,
  2. आवेदन करने वाले विधार्थी के पास आय प्रमाण पत्र व जाति प्रमाण पत्र होना चाहिए,
  3. आवेदन करने वाले विधार्थी के पास सक्रिय बैंक खाता होना चाहिए जो उसके आधार कार्ड से लिंक हो,
  4. आवेदन करने वाले विधार्थी के पास सक्रिय मोबाइल नंबर होना चाहिए व ताजा फोटो होनी चाहिए आदि।

उपरोक्त दस्तावेजो के आधार पर ही हमारे विधार्थी इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

इन आधारो पर करना होगा आवेदन

इस योजना के लिए जिन आधार पर आपको आवेदन करना होगा उनकी पूरी सूची इस प्रकार हैं –

  1. सबसे पहले हमारे विधार्थियो को इसकी आधिकारीक वेबसाइट पर जाना होगा जिसका लिंक हमने अपने छात्रो की सुविधा के लिए उपलब्ध करवाया हैं – https://sjsa.maharashtra.gov.in/,
  2. हमारे छात्रो को इस लिंक पर क्लिक करना होगा,
  3. इसके बाद आपको होम पेज पर जाना होगा,
  4. इसके बाद आपको होम पेज से इस योजना का आवेदन फॉर्म पी.डी.एफ में डाउनलोड करना होगा,
  5. इसके बाद आपको आवेदन फॉर्म को सावधानी के साथ दस्तावेजो के अनुसार भरना होगा,
  6. इसके बाद आपको मांगी गई हर दस्तावेजे की एक-एक प्रति संलग्न करना होगा,
  7. इसके बाद आपको अपने आवेदन फॉर्म को संबंधित समाज कल्याण कार्यालय में जाकर जमा करवाना होगा।

उपरोक्त प्रक्रियाओ को पूरा करने के बाद आप सरलते से इस योजना में आवेदन कर सकते हैं औऱ इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

FAQ’s

योजना को लेकर आपके सवाल और हमारे जबाव

इस योजना को लेकर हमे आपकी तरफ से लगातार सवाल मिलते रहे हैं जिनका जबाव हमने इस प्रकार से दिया हैं –

सवाल – इस योजना का लाभ भारत के सभी विधार्थियो को मिलेगा ?

जबाव – नहीं। इस योजना का लाभ केवल महाराष्ट्र के विधार्थियो को मिलेगा।

सवाल – इस योजना का लाभ महाराष्ट्र के किन विधार्थियो को मिलेगा ?

जबाव- इस योजना का लाभ महाराष्ट्र के अनुसूचित जाति और नव बौद्ध श्रेणी के विधार्थियो को मिलेगा।

सवाल – योजना का मौलिक लक्ष्य क्या हैं ?

जबाव – योजना का मौलिक लक्ष्य हैं हमारे इन विधार्थियो को बेहतर शिक्षा प्रदान करना और उनके भविष्य को उज्जवल बनाना।

सवाल – योजना के तहत विधार्थियो को कितनी राशि की आर्थिक सहायता दी जायेगी ?

जबाव –  योजना के तहत विधार्थियो को 51,000 रुपयो की आर्थिक राशि प्रतिवर्ष दी जायेगी उनकी बेहतर शिक्षा औऱ उज्जवल भविष्य के लिए।

सवाल –  योजना में कैसे करना होगा आवेदन?

जबाव- योजना में ऑनलाइन आवेदन करना होगा औऱ योजना के तहत तय सभी चरणो को पूरा करना होगा।

सवाल – योजना में क्या क्या लगेगे आवेदन के लिए ?

जबाव – योजना में आवेदन करने के लिए आपको योजना के अनुसार तय सभी दस्तावेजो औऱ योग्यताओ की पूर्ति करनी होगी।

Leave a Comment