PM गरीब कल्याण रोजगार अभियान Garib Kalyan Rojgar Abhiyan Registration

PM गरीब कल्याण रोजगार अभियान Garib Kalyan Rojgar Abhiyan Registration

गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2021

PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyan Yojana 2021 | Pradhanmantri Garib Kalyan Rojgar Online Apply | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान ऑनलाइन आवेदन |  |  गरीब कल्याण रोजगार अभियान रजिस्ट्रेशन | गरीब कल्याण रोजगार अभियान ऑनलाइन/आवेदन पंजीकरण | Garib Kalyan Rojgar Abhiyan kya hai in hindi

 

’’ प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना 2021’’ वो योजना है जो कि, आज के हमारे लेख का आधार हैं क्योंकि हम, सभी भारतवासी भली-भांति जानते हैं कि, कोरोना का दुष्प्रभाव कहां तक हमारे दैनिक जीवन को प्रभावित कर चुका हैं और इसका सबसे अधिक नकारात्मक प्रभाव ’’ प्रवासी मजदूर भाई-बहनो ’’ पर पडा हैं क्योंकि ये दोहरी मार के शिकार हुए हैं एक, कोरोना के तो दूसरा, बेरोजगारी के लेकिन भारत सरकार ने, समय रहते इनके सामाजिक व आर्थिक सशक्तिकरण के लिए ’’ प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना 2020 ’’ की आधिकारीक शुरुआत 20 जून,2020 को भारत सरकार द्धारा कर दी गई हैं जिसके तहत ’’ मिशन मोड ’’ के तहत भारत के 6 राज्यो के 116 जिलो के हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को 125 दिनो का रोजगार प्रदान करके उनका सामाजिक और आर्थिक विकास तय करते हुए उनका व उनके परिवार को कोरोना के नकारात्मक प्रभावो से मुक्त जीवन प्रदान किया जायेगा ताकि वे एक संतुलित और सुचारु जीवन जी सकें औऱ बहादुरी के साथ कोरोना से लड़ने में, सरकार की मदद कर सकें।

हम, अपने इस लेख में, अपने सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को Pradhan mantri Garib Kalyan Yojana 2020 पूरी जानकारी देंगे, इसके मौलिक लक्ष्यो व लाभो के बारे में बतायेगे और साथ-ही-साथ योजना के चारित्रिक पहलूओ और परिणामो के बारे में, बतायेगे ताकि हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहन इस योजना का अधिक से अधिक लाभ ले सकें और अपना व अपने परिवार का कोरोना से सुरक्षा करते हुए कोरोना को हराने में, सरकार की मदद कर सकें।

Garib Kalyan Rogar Abhiyan 12

PM Garib Kalyan Rojgar Yojana 2021

योजना का नाम प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना 2021
योजना के पहलकर्ता भारत सरकार।
योजना का मौलिक उद्धेश्य कोरोना की दोहरी मार झेल रहे सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो का सामाजिक व आर्थिक विकास करना।
योजना के लाभार्थी भारत के सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहन।
योजना के केद्रीय बिंदु हमारी सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को कोरोना से दुष्प्रभावो से बचाते हुए उन्हें एक संतुलित व सुचारु जीवन-शैली प्रदान करना।
योजना में अभी तक कितने जिलो को शामिल किया गया हैं योजना में, अभी तक कुल 6 राज्यो के 116 जिलो को शामिल किया गया हैं।
योजना के तहत कितना बजट तय किया गया हैं योजना के लिए 50 हजार करोड़ रुपयो का बजट रखा गया हैं।
योजना के तहत कितने मंत्रालयो को शामिल किया गया हैं इस अभियान मे, कुल 12 मंत्रालयो को शामिल किया गया हैं।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2020 – मौलिक लाभ

हम, अपने सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को इस योजना के मौलिक लाभो के बारे में, बताना चाहते हैं जो कि, इस प्रकार से है-

  1. सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को कोरोना की दोहरी मार से बचाते हुए उनका सामाजिक-आर्थिक सशक्तिकरण किया जायेगा,
  2. इस योजना के तहत हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को उनके घरेलू राज्यो में, ही रोजगार प्रदान किया जायेगा,
  3. इस योजना के तहत कुल 50 हजार करोड़ रुपयो का बजट तैयार किया गया हैं ताकि सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो के विकास के लिए योजना का संचालन सफलतापूर्वक किया जा सकें,
  4. योजना के तहत हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को एक संतुलित औऱ सुचारु जीवन की प्राप्ति होगी और
  5. इस योजना के फलस्वरुप सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो का सतत व सर्वाधिक विकास को बढावा दिया जायेगा आदि।

उपरोक्त सभी मौलिक लाभो की प्राप्ति इस योजना के तहत हमारे प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को होगी जिससे उनका सामाजिक औऱ आर्थिक कल्याण होगा।

अभियान पर एक नजर

इस अभियान की शुरुआत 20 जून, 2020 को किया जायेगा जिसकी आधिकारीक घोषणा भारतीय वित्त मंत्री श्रीमती. निर्मला सीतारमण जी के द्धारा कर दी गई हैं और इस अभियान को आधिकारीक तौर पर 20 जून, 2020 को भारतीय प्रधानमंत्री श्री. नेरन्द्र मोदी जी के द्धारा किया जायेगा। इस अभियान का मुख्य लक्ष्य होगा, हमारे गरीब और आर्थिक तौर पर कमजोर प्रवासी मजदूर भाईयो औऱ बहनो रोजगार प्रदान करके उनका आर्थिक और सामाजिक सशक्तिकरण करना हैं ताकि वे इस संकट के समय अपना औऱ अपने परिवार की देखभाल कर सकें, उनकी आर्थिक जरुरते पुरी कर सकें और उन्हें एक संतुलित जीवन प्रदान कर सकें।

PM Narendra Modi launches Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan

इस अभियान की सबसे प्रमुख बात हैं कि, इस अभियान को भारत के 6 राज्यो के 116 जिलो में ’’ मिशन मोड ’’ के तहत चलाया जायेगा जिसके तहत हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाईयो औऱ बहनो को लगातार 125 दिनो का रोजगार प्रदान किया जायेगा जिससे हमारे इन प्रवासी मजदूर भाईय़ो औऱ बहनो का आर्थिक सशक्तिकरण होगा और वे इसके नकारात्मक प्रभाव से खुद को व अपने परिवार को बचा पायेगे और एक संतुलित जीवन जी पायेगे।

अभियान का मौलिक उद्धेश्य

इस अभियान के तहत जिन मौलिक उद्धेश्यो को तय किया गया हैं उनकी सूची कुछ इस प्रकार से हैं-

  1. कोरोना की मार झेलकर आये हमारे प्रवासी मजदरो को रोजगार प्रदान करना ताकि उनकी आर्थिक जरुरते पूरी हो सकें और उनका और उनके परिवार का आर्थिक भरण-पोषण हो सकें,
  2. हमारे इन मजदूर भाईयो औऱ बहनो के परिवारो को सुचारु पालन-पोषण करना हैं,
  3. हमारे इन मजदूर भाईयो और बहनो को अभियान प्रदान करके आर्थिक तौर पर मजबूत करना हैं ताकि वे कोरोना को हराने में भारत सरकार की मदद कर सकें,
  4. इस अभियान के तहत सभी प्रवासी मजदूर भाईयो औऱ बहनो को सामाजिक दूरी के सिद्धान्त के प्रति जागरुक और सर्तक बनाया जायेगा ताकि वे कोरोना को हराने मे देश की मदद कर सकें,
  5. इस अभियान के तहत अन्तिम लक्ष्य के तौर पर हमारे गरीब प्रवासी मजदूर भाईय़ो औऱ बहनो को आत्मनिर्भर, आत्मसशक्त औऱ आत्मजागरुक बनाना हैं।

उपरोक्त वे मौलिक उद्धेश्य हैं जिनकी पूर्ति हमारी भारत सरकार व उसके 12 मंत्रालय इस अभियान के माध्यम से पूरी करना चाहते हैं।

Read: Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan in Hindi

अभियान से निकल कर आये इसके चारित्रिक पहलूओ पर नजर

इस अभियान से ना केवल हमारे प्रवासी मजदूर भाईयो और बहनो को रोजगार मिलेगा, उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार होगा बल्कि वे इस अभियान की मदद से कोरोना के इस संकटकाल में भी एक सामान्य और संतुलित जीवन जी पायेगे। इस अभियान के तहत कुछ चारित्रिक बिंदु उभर कर आये हैं जिनका वर्णन हम इस प्रकार से कर रहे हैं-

  • सर्वप्रमुख चारित्रिक पहलू हैं कि, कोरोना वायरस की मार झेल रहे हमारे सभी घर आये प्रवासी मजदूरो को रोजगार प्रदान करना हैं ताकि वे अपना और अपना परिवार का सुचारु तरीके से पालन-पोषण कर सके,

Pradhan Mantri Garib Kalyan Rogar Abhiyan

  • अभियान के तहत ये तय किया गया हैं कि, इस अभियाना का सर्वाधिक लाभ हमारे ग्रामीण क्षेत्रो में वापस आये प्रवासी मजदूरो को दिया जायेगा,
  • इस अभियान के तहत तय किया गया हैं कि, देश के 6 राज्यो में, 116 जिलो में, 125 दिनो तक इस अभियान का संचालन किया जायेगा ताकि हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाईयो औऱ बहनो को इस अभियान का लाभ मिल सकें,

PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyan Yojana

  • इस अभियान के तहत हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाईयो और बहनो से जल संरक्षण एव सिंचाई, कुंए की खुदाई, पौधारोपण, आंगनवाडी केंद्र, पी.एम. आवास योजना ग्रामीण व जल जीवन मिशन आदी के तहत काम प्रदान किया जायेगा,
  • इस अभियान का सर्वप्रमुख पहलू यह हैं कि, इस अभियान के तहत 116 जिलो के 25,000 मजदूरो को 125 दिनो तक रोजगार प्रदान किया जायेगा,
  • आपको बताना हमारा कर्तव्य हैं कि, इन जिलो में 67 लाख प्रवासी मजदूरो की वापसी हुई हैं जिसमें से हमारे बिहार में 32, यू.पी में 31, मध्य प्रदेश में 24, राजस्थान में 22, ओडिशा में 4 और झारखंड में 3 जिले शामिल हैं जिनमें प्रवासी मजदूर भाई बहनो की वापसी हुई हैं,

इस अभियान का सफल संचालन करने के लिए कुल 50 हजार करोड रुपयो का बचट रखा गया हैं:- 

PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyan

  • इस अभियान के तहत हमारे सभी ग्रामीण प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को आजीविका के बेहतर साधन उपलब्ध करना हैं ताकि वे इस संकट के समय अपना और अपने परिवार का संतुलित पालन-पोषण कर सकें आदि।

इन 12 मंत्रालयो का संयुक्त अभियान और परिणाम हैं ये अभियान

हम अपने सभी प्रवासी मजदूर भाईयो औऱ बहनो को बताना चाहते हैं कि, उनके आर्थिक कल्याण के लिए जारी इस अभियान को किसी एक के द्धारा नही बल्कि कुल 12 मंत्रालयो की संयुक्त अभियान का परिणाम हैं ये अभियान। इन सभी 12 मंत्रालयो का वर्णन इस प्रकार से हैं-

  1. ग्राम विकास मंत्रालय व पंचायती राज मंत्रालय,
  2. सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय,
  3. खान मंत्रालय व पर्यावरण मंत्रालय,
  4. पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय,
  5. पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय,
  6. नई व नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय,
  7. सीमा सड़क विभाग और दूरसंचार मंत्रालय, व
  8. कृषि मंत्रालय आदि।

उपरोक्त सभी मंत्रालयो का संयुक्त अभियान हैं ये अभियान जिसे हमारे प्रवासी मजदूर भाईयो औऱ बहनो की आर्थिक और सामाजिक सुरक्षा के लिए जारी किया गया हैं।

Read: PM Modi 20 लाख करोड़ का आर्थिक पैकेज

प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को आवेदन के लिए करना होगा इंतजार

हम अपने सभी प्रवासी मजदूर भाईयो और बहनो को बताना चाहते है कि, उनके आर्थिक कल्याण के लिए शुरु की गई इस अभियान में आवेदन प्रक्रिया को अभी शुरु नही किया गया हैं इसलिए हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाईयो औऱ बहनो को इस अभियान में आवेदन के लिए करना होगा इंतजार लेकिन हम अपने सभी प्रवासी मजदूर भाईय़ो और बहनो को आश्वासन देते हैं कि, जैसे ही  सरकार द्धारा इस अभियान के तहत  आवेदन प्रक्रिया को शुरु किया जायेगा या इससे संबंधित कोई भी जानकारी जारी की जाती है तो हम आपको इसकी सूचना तुरन्त अपने अगले लेख में देगे ताकि आप इस अभियान का पूरा लाभ ले सकें।

PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyan FAQ’s

अभियान को लेकर आपके Q. और हमारे Ans.

इस अभियान को लेकर हमें आपकी तरफ से कुछ Q. मिले हैं जिनका Ans. हमने इस प्रकार से दिया हैं-

Q;  योजना की घोषणा किसने की हैं ?

Ans. – इस अभियान की आधिकारीक घोषणा भारतीय वित्त मंत्री श्रीमती. निर्मला सीतारमण ने किया हैं।

Q: अभियान की शुरआत कब व किसके द्धारा की जायेगी ?

Ans. – इस अभियान की शुरुआत 20 जून, 2020 को प्रधानमंत्री श्री, नेरन्द्र मोदी के द्धारा किया जायेगा।

Q:  क्या होगा अभियान का मौलिक उद्धेश्य ?

Ans. – इस अभियान  का मौलिक उद्धेश्य हैं हमारे सभी वापस आये प्रवासी मजदूर भाईयो औऱ बहनो को इस अभियान के तहत रोजगार प्रदान करके उन्हें आर्थिक सुरक्षा प्रदान करनी हैं ताकि वे अपना और अपने परिवार का सुचारु तौर पर पालन-पोषण कर सकें।

Q: इस अभियान का संचालन किन राज्यो व जिलो में किया जायेगा ?

Ans. – इस अभियान का संचालन देश के 6 राज्यो के 116 जिलो में किया जायेगा।

Q:  इस अभियान के तहत किन्हे रोजगार प्रदान किया जायेगा ?

Ans. – इस अभियान के तहत अपने-अपने घर वापस आये हमारे प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को इस अभियान के तहत रोजगार प्रदान किया जायेगा।

Q:  इस अभियान के सफल संचालन के लिए कितने रुपयो की मिली है मंजूरी ?

Ans.  –  इस अभियान के सफल संचालन के लिए कुल 50 हजार करोड रुपयो के बचट को मिली हैं मजूरी ताकि इस अभियान का लाभ हमारे हर प्रवासी मजदूर भाई-बहन को मिले।

Q:  अभियान में आवेदन कर सकते हैं ?

Ans. – इस अभियान में आवेदन करने के लिए हमारे सभी मजदूर भाई बहनो को इंतजार करना होगा क्योकि आवेदन प्रक्रिया को अभी शुरु नहीं किया गया हैं लेकिन जैसे आवेदन को लेकर किसी भी तरह की कोई जानकारी या फिर सूचना बाहर आती हैं तो हम आपको अपने लेख में सूचित कर देंगे।

 

Leave a Comment