प्रधानमंत्री जन औषधि योजना 2021 | PM Jan Aushadhi Yojana Form

Pradhan Mantri Jan Aushadhi Yojana Online Form 2021

हम अपने इस लेख के माध्यम से ये बताना चाहते हैं कि, भारत सरकार लगातार चिक्तिसा और औषधियों के क्षेत्र में लगातार भरसक प्रयास कर रही हैं जिसका एक ताजा उदाहरण हैं,’’  प्रधानमंत्री जन औषधि योजना 2021 ’’

प्रधानमंत्री जन औषधि योजना 2021 : परिचय-

परिचय के तौर हम कह सकते हैं कि, इस योजना अर्थात् ’’ प्रधानमंत्री जन औषधि योजना 2020 ’’ के तहत उन केंद्रो की स्थापना की जायेगी जहा पर आपको सभी मान्यता प्राप्त दवाईयां सस्ती दरो पर उपलब्ध होगीं

आर्थिक रुप से कमजोर और पिछड़े समुदाय के लोगो के लिए इन केंद्रो पर खास प्राथमिकता दी गई हैं जिसके तहत उन्हें सभी दवाईयां सस्ती दरो पर मुहैया करवाई जायेगीं।

इसका मूल उद्धेश्य भारत में स्वास्थ्य के क्षेत्र में आर रही उदासीनता को दूर करना हैं।

Pradhan Mantri Jan Aushadhi Yojana 2020,

स्वास्थ्य के क्षेत्र में क्रान्तिकारी कदम-

इस योजना के तहत स्वास्थ्य के क्षेत्र में एक क्रान्तिकारी बदलाव लाने की कोशिश की जा रही हैं ताकि इस क्षेत्र में आ रही उदासीनता को दूर किया जा सकें।

हमारे भारत में किसी भी मृत्यु हो जाने पर इतना खर्चा नहीं होता हैं जितना की, बीमार होने पर होता हैं क्योंकि बिमारी कि स्थिति में दवाई बेहद महंगी मिलती हैं और कुछ दवाईयां ऐसी होती हैं जो बहुत कम जगहो पर मिलती हैं आदि इन्हीं समस्याओं को दूर करने के लिए सरकार ने ’’ प्रधानमंत्री जन औषधि योनजा 2020 ’’ का शुभारम्भ किया हैं।

प्रधानमंत्री जन औषधि योजना का उद्धेश्य – प्रधानमंत्री जन औषधि योजना 2021 

इस योजना के उद्धेश्यों की सूची इस प्रकार हैं-

  1. गांव-देहातो में दूरी को खत्म करते हुए दवाईयों की सरल उपलब्धता प्रदान करना,
  2. सस्ती कीमतो पर दवाऐ मुहैया करना,
  3. दुलर्भ दवाईयों को लोगो तक पहुंचाना,
  4. कुछ मूलभूत दवाईयों को नि-शुल्क प्रदान करना,
  5. गरीब लोगो को बाजार की मंहगी दवाओं से बचाकर उन्हें कम कीमतो पर दवाये उपलब्ध करवा कर उनके स्वास्थ्य की सुरक्षा करना आदि।

उपरोक्त उद्धेश्यों की पूर्ति के लिए ही इस योजना का शुभारम्भ किया गया हैं।

Read: प्रधानमंत्री आवास योजना सब्सिडी स्कीम

प्रधानमंत्री जन औषधि योजना से होने वाले लाभ- प्रधानमंत्री जन औषधि योजना 2021 

इस योजना के तहत होने वाले लाभों की सूची इस प्रकार हैं-

  1. आर्थिक तौर पर कमजोर और पिछड़े समुदाय के लोगो को इससे बड़ी राहत मिलेगी,
  2. इस जन औषधि केंद्रो पर सस्ती दरो पर दवायें उपलब्ध करवाई जायेंगी,
  3. दुलर्भ दवाईयों की सुलभता प्रदान की जायेगी,
  4. ग्रामीण अंचल में दूरी को देखते हुए जगह-जगह जन औषधि केंद्रो को खोला जायेगा,
  5. इन केंद्रो से दवाईयों से त्वरित उपलब्धता हो सकेगी,
  6. इन केंद्रो की उपलब्धता के कारण हमें दवाईयों के लिए इधऱ-उधर नहीं भटकना पड़ेगा,
  7. सस्ती कीमतो पर दवाईयां मिलेंगी जिससे कि, पैसो की कमी के कारण हमारे अपनो के ईलाज में कोई कमी नहीं आयेगी और ना ही हम अपने परिजनो से बिछड़ पायेंगें आदि।

उपरोक्त वे लाभ हैं जो हमें इस योजना के द्धारा मिलेगा।

Read: प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021

कौन-कौन खोल सकते हैं जन औषधि केंद्र और क्या रहेगी पात्रता- प्रधानमंत्री जन औषधि योजना 2021 

इस योजना के तहत हम में से कौन-कौन जन औषधि केंद्रो की शुरुआत कर सकते हैं और क्या हो सकती हैं इसकी पात्रता, उसकी पूरी सूची कुछ इस प्रकार हैं-

  1. सभी गैर-सरकारी संगठन, संस्था या फिर हर सहकारी समिति जो राज्य द्धारा मान्यता प्राप्त हो,
  2. सभी गैर-सरकारी संगठन, संस्था या फिर हर सहकारी समिति जिसे कल्याणकारी गतिविधियों को संचालित करने का कम से कम 3 सालो का अनुभव हो और जिनके पास इस केंद्र को खोलने की जगह और पैसे हो,
  3. इस योजना के तहत कोई भी अभ्यास कर रहा चिकित्सक या फिर बेरोजगार भी यह केंद्र खोल सकता हैं जिसके पास जगह और पैसा दोनो हो,
  4. इस केंद्र को खोलने के लिए कम से कम 120 वर्ग-फुट की जगह होनी चाहिए,
  5. केंद्र खोलने वालो को सरकार द्धारा 650 से अधिक दवाईयां उपलब्ध करवाई जायेगी।

हमने आपको बताया कि, कौन-कौन इस केंद्र को शुरु कर सकता हैं और इसके लिए किन पात्रताओँ को पूरा करना होगा।

Read: प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना 2021

केंद्र खोलने के लिए किन कागजातो की पड़ेगी जरुरत- प्रधानमंत्री जन औषधि योजना 2021 

इस योजना के तहत केंद्र खोलने के लिए आपको जिन कागजातो की जरुरत पड़ेगी उनकी पूरी सूची इस प्रकार हैं-

  1. आवेदक, आधार कार्ड धारक और पैन कार्ड धारक होना चाहिए,
  2. सभी गैर-सरकारी संगठनों, संस्थाओं, अस्पताओं आदि को ये केंद्र खोलने के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड और पंजीयन प्रमाण पत्र की जरुरत होगी,
  3. इस केंद्र को शुरु करने के लिए आपके पास 120 वर्ग फुट की जगह होनी चाहिए और यदि आपके पास ये जगह नहीं हैं तो आप किराये पर भी ले सकते हैं जिसके कागजात आपको प्रस्तुत करने होगें,
  4. सक्षम प्राधिकारी से बिक्री लाईसेंस होनी चाहिए,
  5. साथ ही आवेदकर के पास ’’ प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र ’’ के नाम पर ड्रग लाईसेंस  होनी चाहिए,
  6. फार्मासिस्ट के साथ-साथ कम्प्यूटर का ज्ञान होना चाहिए,
  7. केंद्र को चलाने के लिए आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होनी चाहिए जिसकी जांच के लिए आपको पिछले 3 सालों के ऑडिट दिखाने होंगे या इसकी जगह आप बैंक का विवरण भी प्रस्तुत कर सकते हैं।

उपरोक्त कागजातो के आधार पर ही आप इस योजना के तहत केंद्र का संचालन कर पायेंगे।

Read: मुख्यमंत्री आवास योजना 2021

केंद्र के संचालको सरकार की तरफ से मिलेगी ये सहायता- प्रधानमंत्री जन औषधि योजना 2021 

इस योजना के तहत जो व्यक्ति केंद्र की शुरुआत करता हैं उसे सरकार की तरफ से कुछ सहायता भी दी जायेगी जो कि, इस प्रकार हैं-

  1. सरकार द्धारा प्रत्येक दवा पर 20 प्रतिशत का मार्जिन दिया जायेगा,
  2. जिन केंद्र संचालको को अस्पताल में अपने केंद्रो के संचालन के लिए जगह दी जायेगी उन संचालको को एक बार में ढाई लाख रु की सहायता दी जायेगी,
  3. कम्प्यूटर, प्रिंटर और इंटरनेट के लिए प्रतिपूर्ति के तौरपर 0.50 लाख रु दिये जायेगें,
  4. केंद्र के भीतर मेंज, कुर्सिया और अलमारीयों के लिए 1 लाख की राशि प्रतिपूर्ति के तौर पर दी जायेगी,
  5. यह प्रोत्साहन 10 माह कि बिक्री के हिसाब से दिया जायेगा,
  6. नक्शल प्रभावित और आदिवासी क्षेत्रो में प्रोत्साहन राशि की दर 15 प्रतिशत होगी आदि।

उपरोक्त सहायता सरकार द्धारा की जायेगी केंद्र के संचालको को।

ऑनलाईन माध्यम से इस तरह करे आवेदन- प्रधानमंत्री जन औषधि योजना 2021 

इस योजना के तहत केंद्र खोलने के लिए आपको ऑनलाईन माध्यम से आवेदन करना होगा जो कि, बेहद सरल और सुलभ हैं। इस कुछ चरणों के तहत पूरा कर सकते हैं जो कि, इस प्रकार हैं-

  1. इसमें पंजीकरण के लिए आपको इसकी आधिकारीक वेबसाइट पर जाना होगा,
  2. इसके बाद मांगी गई हर जानकारी को सही-सही दर्ज करे और अपने पंजीकरण को पूरा करने के बाद अपने ई-मेल को सत्यापित जरुर करें,
  3. इसके बाद फॉर्म को सावधानीपूर्वक भरे,
  4. इसके बाद इसकी एक नकल औऱ अपने लॉगिन आई.डी और पासवर्ड सुरक्षित रखें।

उपरोक्त चरणों का पालन करते हुए आप सरलता से इस योजना के तहत अपना केंद्र खोल सकते हैं।

अन्त, हम कह सकते हैं कि, भारत सरकार लगातार स्वास्थ्य के क्षेत्र मे काम कर रही हैं जिसके प्रभावों को हम आये दिन देखते हैं।

Check More Useful Links You Would Like

हरयाणा योजना बिहार योजना
मध्य प्रदेश योजना मध्य प्रदेश योजना
पंजाब योजना उत्तर प्रदेश योजना
मुख्यमंत्री योजना राशन कार्ड सूची
तमिलनाडु योजना आंध्र प्रदेश योजना
बंगाल योजना दिल्ली योजना
हिमाचल प्रदेश योजना गुजरात योजना

 

Leave a Comment