{PKPY} प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना 2022 | ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म

{PKPY} प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना 2022 | ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म

प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना 2022

Pradhanmantri Kisan Pension Yojana 2022 Online Registration | PKPY Online Registration 2022 | प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना 2022 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन /कर्नाटका/केरला/महाराष्ट्र/उत्तर प्रदेश/पंजाब /तमिलनाडु/आंध्र प्रदेश /अरुणाचल प्रदेश/असम/बिहार/गोवा /गुजरात /हरियाणा/उत्तर प्रदेश/तेलंगाना/उत्तराखंड/झारखंड/राजस्थान/सिक्किम/हिमाचल प्रदेश  

हमारा आज का लेख, हमारे सभी अन्नदाताओ अर्थात् किसान भाई-बहनो को समर्पित हैं क्योंकि हम, अपने इस लेख ” {PKPY} प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना 2022 | ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म “में, अपने किसान भाई-बहनो को भारत सरकार द्धारा उनकी सामाजिक व आर्थिक सशक्तिकरण के लिए जारी योजना ’’ प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना 2022 ’’ के बारे में, बताना चाहते हैं जिसके तहत हमारे करीब 12-13 करोड किसानो को मासिक तौर पर 3,000 रुपयो की मासिक पेंशन दी जायेगी

Pradhanmantri Kisan Pension Yojana 2020

ताकि हमारे दयनीय स्थिति में जी रहे किसान भाई-बहनो का सामाजिक व आर्थिक विकास हो सकें और हमारे किसान पूरे तन-मन से अपने राष्ट्र की सेवा करते हुए अपना व अपनो का सामाजिक और आर्थिक कल्याण कर सकें।

हम, अपने इस लेख में, अपने सभी किसान भाई-बहनो को pradhan mantri kisan pension yojana online registration 2022 व pm kisan pension yojana online apply 2022 की पूरी जानकारी देंगे, इसके मौलिक लक्ष्यो व लाभो के बारे में बतायेगे,

इसके तहत मांगे जाने वाले दस्तावेजो व पात्रताओ के बारे में बतायेगे और साथ ही साथ इस योजना में, होने वाली ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया के बारे में, बतायेगे ताकि हमारे सभी अन्नदाता इस योजना में, अधिक से अधिक मात्रा में, आवेदन कर सकें और इस योजना का लाभ लेते हुए अपने देश का औऱ

कृषि प्रधान देश में किसानों का सशक्तिकरण-

हमारे बारे में आलोचनास्वरुप ये हमेशा से कहा जाता रहा हैं कि, भारत जो dकि, एक कृषि प्रधान देश हैं उसी में किसानों की आये दिन बदहाली की नई-नई वारदाते देखने को मिलती हैं और सबसे ज्यादा किसानों की बुरी हालत अगर किसी देश में है तो वो भारत ही हैं।

पर अब तस्वीर बदल रही हैं क्योंकि भारत सरकार द्धारा लगातार अपने किसान भाईयों के कल्याण की दिशा मे लगातार कदम उठाए जा रहे हैं जिसका एक ताजा उदाहरण हैं, “Pradhanmantri Kisan Pension Yojana 2022”

इस योजना के तहत हमारे किसान भाईयों को पेंशन स्वरुप आर्थिक सहायता दी जायेगी, जिससे उनके सामाजिक और आर्थिक स्तर में सुधार हो ताकि उनका हाशिये पर खडा मृत जीवन दुबारा से जीवित हो सके।

योजना का नाम किसान पेंशन योजना 2022
योजना के पहलकर्ता भारत सरकार।
योजना का मौलिक उद्धेश्य सभी किसान भाई-बहनो को पेंशन देकर उनका सामाजिक व आर्थिक विकास  करना।
योजना के लाभार्थी योजना के तहत भारत के सभी योग्य अन्नदाता।
योजना के केद्रीय बिंदु 3,000 रुपयो की मासिक पेंशन देकर हमारे सभी अन्नदाताओ का व उनके परिवारो के उज्जवल भविष्य का निर्माण करना।
योजना में, आवेदन की स्थिति योजना में, ऑफलाइन आवेदन जारी हैं।
योजना के दी जाने वाली पेंशन राशि योजना के तहत कुल 3,000 रुपयो की मासिक पेशन दी जायेगी।
योजना के तहत कितने अन्नदाताओ को लाभ पहुंचाने का हैं लक्ष्य योजना के तहत करीब 5 करोड अन्नदाताओ को लाभ पहुंचाने का लक्ष्य हैं।

किसान पेंशन योजना 2022 – मौलिक लक्ष्य

हम, अपने सभी अन्नदाताओ को इस योजना के बेहद मौलिक लक्ष्यो के बारे में, बताना चाहते हैं जो कि, इस प्रकार से हैं-

  1. हमारे सभी किसान भाई-बहनो का सामाजिक व आर्थिक सशक्तिकरण करना,
  2. हमारे सभी अन्नदाताओ को नई सामाजिक पहचान देना और उनके सामाजिक अस्तित्व को सुरक्षित करना,
  3. हमारे सभी अन्नदाताओ की खेती को विकसित करना औऱ उनके उज्जवल भविष्य का निर्माण करना,
  4. योजना के तहत हमारे सभी योग्य अन्नदाताओ को 3,000 रुपयो की मासिक पेंशन दी जायेगी औऱ
  5. इस योजना के तहत हमारे कर्ज में, डूबे अन्नदाताओ को मुक्ति मिलेगी साथ ही साथ उनके भविष्य को भी सुरक्षित किया जायेगा आदि।

उपरोक्त सभी मौलिक लक्ष्यो की पूर्ति इस योजना के तहत की जायेगी जिससे हमारे सभी अन्नदाताओ का ’’ कृषि सशक्तिकरण ’’ होगा।

किसान पेंशन योजना 2022 – मौलिक लाभ

हम, अपने सभी अन्नदाताओ को इस योजना के बेहद मौलिक लाभो के बारे में, बताना चाहते हैं जो कि, इस प्रकार से हैं-

  1. हमारे सभी किसान भाई-बहनो का सामाजिक व आर्थिक सशक्तिकरण हुआ हैं,
  2. हमारे सभी अन्नदाताओ को नई सामाजिक पहचान देना और उनके सामाजिक अस्तित्व को सुरक्षित किया गया हैं,
  3. हमारे सभी अन्नदाताओ की खेती को विकसित करना औऱ उनके उज्जवल भविष्य का निर्माण करना संभव हुआ हैं,
  4. योजना के तहत हमारे सभी योग्य अन्नदाताओ को 3,000 रुपयो की मासिक पेंशन प्राप्त हुई हैं औऱ
  5. इस योजना के तहत हमारे कर्ज में, डूबे अन्नदाताओ को मुक्ति मिली हैं और साथ ही साथ उनका भविष्य भी सुरक्षित हुआ हैं आदि।

उपरोक्त सभी मौलिक लक्ष्यो की पूर्ति इस योजना के तहत की जायेगी जिससे हमारे सभी अन्नदाताओ का ’’ कृषि सशक्तिकरण के साथ-साथ किसान सशक्तिकरण ’’ हुआ हैं।

योजना को लाने की जरुरत क्यूं पड़ी ?

इस योजना को लाने के पीछे कुछ अहम् कारण हैं जो कि, इस प्रकार से हैं-

  1. कृषि प्रधान देश अर्थात् भारतीय किसानो द्धारा लगातार आत्म-हत्या की वारदाते,
  2. किसानो का भारी कर्ज में डूब होना,
  3. कृषि के प्रति लगातार बढ़ रही उदासीनता,
  4. कृषि से किसानो के पलायन में हो रही वृद्धि आदि।

उपरोक्त कारणों के आधार पर हम कह सकते हैं कि, उपरोक्त कारणो के आधार पर इस योजना को और इसी तरह की अन्य योजना को लाने की जरुरत हैं।

Read: प्रधानमंत्री आवास योजना 2022 की नई लिस्ट

Read: प्रधानमंत्री आवास योजना 2022 की नई लिस्ट

किसानों में हैं खुशी का माहौल-

जब से प्रधानमंत्री मोदी ने इस योजना घोषणा की हैं वैसे हमारे किसान भाईयो के चेहरे पर खुशी का पानी उतर आया हैं और वे सरकार की तरफ आशा पर नजरो से देख रही हैं।

हमारे किसान भाईयो का कहना हैं कि, इससे हमारी घरेलू स्थिति में सुधार होगा, हमारे बच्चो को एक अच्छी शिक्षा मिलेगी और साथ ही हमारी घर का विकास होगा।

Read: Kisan Asan Kist Yojana 2022

क्या हैं ये प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना?

इस योजना के बारे में कुछ इस तरह से कहा जा सकता हैं कि, इस योजना के तहत हमारे किसान भाईयों को 60 वर्ष की उम्र के बाद आने वाले बुढापे में आर्थिक मदद करना हैं जिससे ना सिर्फ उनका बुढाप सुखद हो बल्कि उन पर निर्भर उनके परिवार को भी आर्थिक सुरक्षा मिलें।

इस योजना के तहत हमारे किसान भाईयों को 60 साल की उम्र के बाद 3,000 रु की मासिक पेंशन दी जायेगी जिसके बदले में हमारे किसान भाईयो को बिलकुल ना के बराबर प्रीमियम के तौर पर प्रति माह कुछ राशि जमा करानी होगी।

प्रीमियम किसानो की उम्र को देखते हुए तय की जायेगी अर्थात् उनकी आयु के अनुसार ही प्रीमियम ली जायेगी जो कि, 55 रु से लेकर 200 रु तक हैं।

Read: {Registration} कुसुम योजना 2022

योजना से संबंधित कुछ आंकड़े-

योजना के संबंध में कुछ आंकडे इस प्रकार हैं जिनका हम प्रस्तुतीकरण कर रहे हैं-

  1. इस योजना का लाभ लगभग 12 से 13 करोड़ किसान भाई ले सकेंगे,
  2. योजना के तहत प्रति माह 3,000 रु की पेंशन दी जायेगी,
  3. इस योजना के तहत शुरुआती स्तर पर 5 करोड़ किसानो को लाभ पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया हैं,

उपरोक्त कुछ आंकड़े हैं जो हमने इस योनजा के संबंध में प्रस्तुत किये हैं।

Read: {Apply} मुख्यमंत्री किसान मित्र योजना 2022

योजना से संबंधित पात्रता और कुछ अहम् पहलू-

इस योजना के तहत कुछ पहलू ऐसे हैं जिनका वर्णन करना यहां पर बेहद जरुरी हैं-

  1. इस योजना का लाभ हर छोटे और सीमान्त किसान उठा सकते हैं,
  2. शुरुआती स्तर पर 5 करोड़ किसानों को लाभ पहुंचाने का रखा गया हैं लक्ष्य,
  3. योजना को चालू रखने के लिए प्रतिमाह 100 रु की राशि जमा कारानी होगी,
  4. 18 से 40 वर्षायु के हमारे किसान भाई उठा सकते हैं इस योजना का लाभ,
  5. योजना के तहत 60 वर्ष की आयु के बाद प्रतिमाह 3,000 रु की पेंशन दी जायेगी,
  6. इस पेंशन को वितरित करने और इसका प्रबंधन करने की जिम्मेदारी एल.आई.सी को सौपी गई हैं,
  7. लाभार्थी की 60 वर्ष के बाद मृत्यु की दशा में उसके पति या पत्नी को पेंशन की 50 प्रतिशत राशि दि जायेगी,
  8. पूरी योजना को पारदर्शी बनाने के लिए, बिचौलियो को दूर रखने के लिए और रिश्वतखोरी पर लगाम लगाने के लिए पूरी आवेदन प्रक्रिया को ऑनलाईन किया गया हैं।

उपरोक्त कुछ ऐसे तत्व थे जिनकी आपको जानकारी होना बेहद जरुरी हैं।

Read: {KVP} Kisan Vikas Patra Yojana 2022

आवेदन के लिए जरुरी कागजात-

इस योजना में आवेदन के लिए कुछ जरुरी कागजातो की सूची इस प्रकार दी गई हैं-

  1. भारत सरकार द्धारा अधिकृत पहचान पत्र,
  2. आधार कार्ड,
  3. हाल ही की एक तस्वीर,
  4. बैंक खाते के प्रथम पृष्ट की एक प्रति व
  5. स्वंय को किसान प्रमाणित करने के लिए प्रमाण आदि।

उपरोक्त कागजातो की जरुरत इस योजना में आवेदन करने के लिए पड़ सकती हैं।

आवेदन की प्रक्रिया के दो चरण-

इस योजना में आवेदन करने के लिए आपको दो चरणो से गुजरना होगा जो कि, बेहद सरल हैं, इस प्रकार हैं-

  1. पंजीकरण चरण-

इस योजना में अपना आवेदन करने के लिए आपको इसके पहले चरण अर्थात् पंजीकरण चरण से गुजरना होगा जो कि, इस प्रकार हैं-

  • इस योजना के तहत अपना पंजीकरण कराने के लिए आपको कॉमन सर्विस सेंटर या सहज जाना होगा और वहां पर अपना पंजीकरण कराना होगा।
  1. फार्म चरण-

इस योजना में आवेदन करने के लिए दूसरा चरण बेहद महत्वपूर्ण हैं क्योंकि इस चरण पर ही आपके आवेदन की स्वीकृति और अस्वीकृति तय करती हैं। इसके चरण इस प्रकार हैं-

  • आपको इस योजना का लाभार्थी बनने के लिए आपको आवेदन फार्म भरना होगा,
  • मांगी जाने वाली हर जानकारी का सही-सही ब्यौरा देना होगा,
  • संबंधित दस्तावेजो को अपलोड करना होगा,
  • अन्त में अपने फार्म को सबमिट करना होगा और उसकी एक नकल प्राप्त कर लेनी होगी।

उपरोक्त दोनो चरणो का पालन करने के बाद आप सरलता से इस किसान-हितैषी योजना का लाभ उठा सकते हैं।

Check More Upcoming Sarkari Yojana By States

हरयाणा योजना बिहार योजना
मध्य प्रदेश योजना मध्य प्रदेश योजना
पंजाब योजना उत्तर प्रदेश योजना
मुख्यमंत्री योजना राशन कार्ड सूची
तमिलनाडु योजना आंध्र प्रदेश योजना
बंगाल योजना दिल्ली योजना
हिमाचल प्रदेश योजना गुजरात योजना

आशा करते द्वारा बताई गई जानकारी आपको लाभदायक साबित हुई होगी इसी प्रकार की जानकारी के लिए आप हमसे ऐसे ही जुड़े रहिये और अपनी राय हमें कमेंट करके ज़रूर बताइये इससे हमें भविष्य में और बेहतर कंटेंट लाने में सहायता मिलेगी , धंन्यवाद।

Leave a Comment