{पंजीकरण} नाबार्ड डेयरी योजना आवेदन 2021 | Nabard Dairy Subsidy Yojana

{पंजीकरण} नाबार्ड डेयरी योजना आवेदन 2021 | Nabard Dairy Subsidy Yojana

नाबार्ड डेयरी योजना 2021

हेलो दोस्तों आपका स्वागत है हमारी वेबसाइट पर आज मैं आपको योजना के बारे में जानकारी देने जा रहा हूं मैं आपको बताऊंगा कि योजना क्या है और किस तरह आप इस योजना का लाभ ले सकते हैं इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको किन-किन दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी और इसकी ऑनलाइन प्रक्रिया किस प्रकार है यह सभी जानकारी देखने के लिए आपको यह लेक अंत तक ध्यान से पढ़ना होगा।

नाबार्ड डेयरी योजना 2021 क्या है

भारत में ग्रामीण क्षेत्रों में आजीविका का प्रमुख स्रोत कृषि और पशुपालन है। जिन्हें बढ़ावा देने के लिए सरकार ने नाबार्ड डेयरी एवं फार्मिंग योजना 2020 शुरू किया है। यह एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत डेयरी फार्मिंग को अग्रषित करने के लिए भारत सरकार ग्रामीणों को बिना ब्याज के ऋण प्रदान करती है। भारत में दुधारू पशुओं से रोजगार के बढ़ते हुए कदम को देखकर सरकार ने डेयरी फार्मिंग उद्योग को बढ़ावा देने के लिए नाबार्ड डेयरी योजना 2020 शुरू की है।नाबार्ड डेयरी योजना 2020

Dairy Farming NABARD Subsidy 2021 in Hindi.

इस योजना के द्वारा सरकार पूर्व स्थापित डेयरी उद्यमियों व नए उद्यमियों को बिना ब्याज के ऋण प्रदान करेगी साथ ही ऋण लेने पर सब्सिडी प्रदान करेगी। जिससे देश में  रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।

केंद्र सरकार के कृषि मंत्रालय विभाग के द्वारा सब्सिडी नाबार्ड के माध्यम से दी जाती है।

Read: किसान क्रेडिट कार्ड हेल्पलाइन नंबर

  • नाबार्ड डेयरी योजना 2020 में कौन-कौन से उद्योग शामिल है
  • डेयरी फार्म
  • पशुपालन डेयरी
  • मत्स्य पालन
  • पोल्ट्री फार्म

नाबार्ड डेयरी योजना 2020 के उद्देश्य

  • उद्यमियों को बिना ब्याज के ऋण प्रदान करना
  • आधुनिक डेयरी फार्म की स्थापना।
  • बछिया एवं बछड़े पालन को प्रोत्साहित करना।
  • डेयरी फार्म की स्थापना एवं विकास के लिए नवीन एवं उन्नत तकनीको को उचित मूल्य पर उपलब्ध कराना।
  • पशुपालन विभाग द्वारा सभी जिलों में आधुनिक डेयरी की स्थापना करना।
  • दूध उत्पादन में वृद्धि करना।
  • डेयरी उद्यमियों को आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराना।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार की वृद्धि करना।
  • गायों और भैंसों की देखरेख, दूध का उत्पादन, घी का निर्माण कार्य मशीनों द्वारा पूर्ण करना।
  • बेरोजगारी को समाप्त करना।
  • दूध प्रसंस्करण, वितरण और दूध उत्पादों का संग्रह।

Read: Kisan Karj Mafi Yojana List State Wise

नाबार्ड के द्वारा ऋण लेने के लिए पात्रता

  • भारत का नागरिक हो।
  • नाबार्ड से मान्यता प्राप्त बैंक में लेने वाले व्यक्ति या संगठन का खाता होना चाहिए।
  • ऋण लेने वाले व्यक्ति की उम्र 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए।
  • ऋण लेने वाला व्यक्ति किसी भी बैंक से डिफाल्टर घोषित ना किया गया हो।

नाबार्ड के द्वारा ऋण लेने के लिए आवश्यक कागजात

  • आधार कार्ड/वोटर आईडी कार्ड/पैन कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र (केवल एससी और एसटी के लिए)

इस योजना का लाभ कौन कौन ले सकता है

  • किसान
  • व्यक्तिगत
  • गैर सहकारी संगठन
  • डेयरी सहकारी समितियां
  • संगठित व असंगठित समूह
  • दुग्ध संघ

Read: Kisan Karj Mafi Yojana List State Wise

इस योजना में उद्यमियों को लोन कहां से प्राप्त होगा

  • क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक
  • वाणिज्यिक बैंक
  • क्षेत्रीय शहरी बैंक
  • राज्य सहकारी बैंक
  • नाबार्ड के द्वारा पात्र व्यवसायिक बैंक
किन उपकरणों पर यह योजना ऋण देगी
  • जानवरों की खरीदी के लिए। (२-१०)
  • दूध निकालने वाली मशीन के लिए
  • दूध रखने के लिए ड्रम
  • दूध प्रसंस्करण यूनिट
  • दूध को ठंडा रखने के लिए कोल्ड स्टोरेज।

Read: {स्टेटस} PM Kisan Samman Nidhi Yojana

ऋण लेने की प्रक्रिया
  • ऋण लेने वाले व्यक्ति संस्था या संगठन का नाम रजिस्टर्ड करें।
  • डेयरी में किए जाने वाले कार्य एवं किए गए खर्चे के पूरा विवरण को दर्शाते हुए एक प्रोजेक्ट करना है।
  • लोन लेने के लिए आवेदन पत्र जो कि प्रोजेक्ट के साथ लगाना है।
  • अपने क्षेत्र के बैंक में आवेदन पत्र व निर्माण किए गए प्रोजेक्ट को जमा करें।
  • अधिकारियों के द्वारा जमा किए गए कागजात की सत्यता की जांच की जाएगी
  • जिस जगह डेयरी खोलनी है उस जगह का निरीक्षण किया जाएगा
  • सब कुछ सही होने पर लोन दिया जाएगा।
  • लोन की राशि यदि Rs. 100000 से अधिक है तो जमीन के कागजात सिक्योरिटी के तौर पर गिरवी रखना होगा।

Leave a Comment