Startup India Scheme 2023 Pdf In Hindi | स्टार्ट अप इंडिया योजना

Startup India Scheme 2023 Pdf In Hindi | स्टार्ट अप इंडिया योजना

Startup India Yojana 2023

स्टार्ट अप इंडिया योजना 2023 | startup india scheme details | startup india scheme pdf in hindi

2014 में, क्रान्तिकारी ढंग से सत्ता – परिवर्तन करते हुए मोदी सरकार ने, लगभग मृत पड़ी भारतीय अर्थव्यवस्था को पुन – जीवित करने से लेकर विकास की पथ पर अग्रसर करने के लिए 16 जनवरी, 2016 को Startup India Yojana 2023 का शुभारम्भ किया जिसके तहत ना केवल देश की अर्थव्यवस्था को नया जीवन प्रदान किया गया बल्कि साथ ही साथ देश मे, फैली बेरोजगारी की समस्या को भी काफी हद तक समाप्त किया गया।

Startup India Loan के तहत Non – Cooperative, Non – Agricultural and MSME’s आदि को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है ताकि देश की अर्थव्यवस्था को विकसित करने व देश की विकास दर को बढ़ाने के लिए इनके योगदान को सुनिश्चित किया जा सकें।

अन्त, हम, अपने इस लेख में, startup india scheme pdf in hindi पूरी जानकारी हिंदी में प्रदान करेंगे ताकि आप इस योजना से जुड़कर इस योजना का लाभ प्राप्त कर अपना व अपने व्यवसाय का विकास कर सकें।

Short Details

भारत सरकार की नई योजनाStartup India Yojana 2023
योजना की शुरुआत किसने और कब की?16 जनवरी, 2016 को पी.एम मोदी द्धारा शुरु किया गया।
योजना का केंद्रीय उद्धेश्यदेश के अर्यव्यवस्था को विकसित करने के साथ – साथ बेरोजगारी की समस्या को समाप्त कर देश का सतत विकास करना।
इन्हें मिलेगा योजना का लाभदेश के सभी व्यापारियों, व्यवसायियो व युवाओं को इस योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा।
योजना के तहत जारी आधिकारीक वेबसाइट का लिंकयहां क्लिक करें
योजना के तहत जारी हेल्पलाइन नंबर / सम्पर्क सूत्रटॉल फ्री – 1800 115 565 पर सम्पर्क कर सकते है।

Startup India Yojana 2023 व इसके लक्ष्य कौन-कौन से है?

Startup India Yojana Kya Hai 2023

16 जनवरी, 2016 ही वो ऐतिहासिक व क्रान्तिकारी दिन था जब मोदी सरकार ने, देश की गिरती अर्थव्यवस्था को सहारा देने,पुन – जीवित करने, वित्तीय सहायता, दिशा – निर्दैशन और साथ ही साथ व्यापक भागीदारी तय करने के लिए समूचे राष्ट्र में, Startup India Yojana का शुभारम्भ किया था ताकि ना केवल देश की अर्थव्यवस्था को विकास की पटरी पर लाया जा सकें बल्कि साथ ही साथ युवाओं को स्व – रोजगार के अवसर देकर देश से बेरोजगारी की समस्या को भी समाप्त किया जा सकें।

हम, आपको बताना चाहते है कि, Startup India Yojana ने, अभी तक आशाजनक कार्य व प्रदर्शन किया है जिसके तहत ये तय शहरो अर्थात् Tier 1 शहरो से होते हुए  Tier 2  व  Tier 3 शहरो तक पहुंचने में, सफल हुई है जिससे इस योजना को काफी सफलता प्राप्त हुई है।

Startup India Yojana 2023 के मौलिक लक्ष्य क्या है?

इस योजना के सभी मौलिक लक्ष्य इस प्रकार से हैं –

  • देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत, टिकाऊ व सतत विकासशील बनाना है,
  • भारत में, नवाचार को प्रेरित व प्रोत्साहित करना

 स्टार्ट अप इंडिया योजना 2023 पर समाचार पत्रो के विचार?

समाचार ही देश का आईना होती है इसलिए हमारे लिये ये जनाना बेहद जरुरी है कि, Startup India Yojana 2021 को लेकर राज्य के प्रमुख समाचार पत्रो के क्या विचार और सुझाव है जिन्हें हम, इन बिंदुओ की मदद से प्रस्तुत करना चाहते हैं जो कि, इस प्रकार से हैं –

  1. समाचार पत्र के अनुसार नई Startup नीति में महिलाओं को प्राथमिकता

सभी समाचार पत्रो ने, प्रमुखता से कहा है कि, नई स्टार्टअप नीति मे, महिलाओं को प्रमुखता से प्राथमिकता दी गई है जिसे इन बिंदुओं की मदद से दर्शाया जा सकता है –

  • देश में, सभी महिला स्टार्टअप्स को प्राथमिकता व मान्यता प्रदान की जायेगी,
  • सभी महिला स्टार्टअप्स को कुल 22,750 रुपयो की वित्तीय सहायता प्रदान की जायेगी,
  • महिलाओं को स्टार्ट अप नीति के तहत 5 लाख रुपयो की पूंजीगत सहायता प्रदान की जायेगी,
  • भारत की सभी महिला स्टार्टअप्स को 7.50 लाख रुपय पूंजी के तौर पर दिया जायेगा,
  • महिलाओं को स्टार्टअप शुरु करने व इसकी पूरी शिक्षा प्रदान करने के लिए Incubation Center में Reservation of 50 % Seats की सुविधा प्रदान की जायेगी,
  • स्टार्टअप के दौरान अपने सभी खर्चो को पूरा करने के लिए हर Incubation Cent की कुल 10 महिला स्टार्टअप्स को 15,000 रुपयो का मासिक निर्वहन भत्ता भी प्रदान किया जायेगा और
  • महिलाओं, दिव्यांगो व तृतीय लिंक अर्थात् Third Gender को 50 % Additional Facilities प्रदान की जायेगी आदि।

उपरोक्त बिंदुओ के बाद कहा जा सकता है कि, मोदी सरकार ने, वास्तव में, महिला स्टार्टअप्स को बढावा देने के लिए स्टार्ट अप इंडिया में, महिलाओं को प्राथमिकता प्रदान की है।

  1. योगी सरकार की मौलिक पहल

मोदी सरकार ने, राज्य की बेरोजगारी को समाप्त करते हुए युवाओ व खासकर महिलाओं के कौशल सशक्तिकरण के लिए स्टार्ट अप इंडिया योजना 2020 को जारी किया है जिसके कई सकारात्मक पहलू उभर कर आये है जैसे कि –

  • साल 2017 मे, जहां पूरे उत्तर प्रदेश में, केवल 200 स्टार्टअप्स ही थे वहीं सिर्फ तीन साल अर्थात् साल 2021 में, बढ़कर इनकी संख्या 3,406 हो गई है जिससे राज्य के कुल 22,000 लोगो को रोजगार की प्राप्ति हुई है।
  1. पूर्वांचल या बुंदेलखंड में, अपना स्टार्टअप लगाने पर कुल 50 प्रतिशत का अतिरिक्त लाभ प्रदान किया जायेगा,

Incubation Cent में महिलाओं को 25 सीटो के आरक्षण की सुविधा प्रदान की जायेगी ताकि वे इसकी मदद से आत्मनिर्भर बनकर अपना व अपने परिवार का सतत विकास कर सकें।

उपरोक्त सभी बिंदुओ की मदद से हमने अपने पाठको व युवाओ सहित व्यापारियों व व्यवसायियो को स्टार्ट अप इंडिया योजना के बारे मे, समाचार पत्रो के विचारो व रुझान को प्रदर्शितत किया है।

स्टार्ट अप इंडिया योजना 2023 के प्राथमिक लाभ कौन-कौन से है?

  1. One Platform of Eco-System

ये प्रमुखता व प्राथमिकता के साथ तय किया गया है कि, इसका प्रयोग एक One Platform of Eco-System के तहत किया जायेगा जिसके माध्यम से अलग – अलग व्यवसाय व व्यापारी आपस में, एक ही मंच पर एक साथ आ सकें, विचार सांक्षा कर सकें और तो और भागीदारी करके अपने – अपने व्यापार को विकसित कर सकें।

  1. पेटेंट संबंधी बौद्धिक सम्पदा अधिकार को मान्यता
  • Intellectual Property Application को Register करने के लिए Startup को अल्प लागत वाली कानूनी सहायता प्रदान करना,
  • Yojana के अंतर्गत पेटेंट व डिजाइन संबंधी सभी कार्यो सुचारु संचालन के लिए 423 सहायको के पैनल के साथ – साथ ट्रैडमार्क एप्लिकेशन के लिए भी 596 लोगो का एक सहायक पैनल शुरु किया गया है,
  • ताजा आकड़ो के अनुसार पेटेंट संबंधी बौद्धिक सम्पदा अधिकार वाले आवेदनो को अल्प कानूनी सहायता के साथ पेटेंट फीस में, 80 प्रतिशत की भारी छूट भी प्रदान की गई है क्योंकि ट्रेडमार्क नियम 2017 के तहत यदि स्टार्टअप्स द्धारा ट्रैडमार्क दाखिल किया जाता है तो उन्हें कुल लागत में, 50 प्रतिशत की छूट प्रदान की जायेगी आदि।

उपरोक्त बिंदुओं की मदद से हमने आपको पेटेंट संबंधी बौद्धिक सम्पदा अधिकार व छूट के बारे में, बताया।

  1. औपचारिक प्रक्रिया को सरल व सहज किया गया है

हम, और आप सभी जानते है कि, Startup India Yojana से पहले किसी भी तरह के लघु या छोटे उद्योगो की स्थापना से लेकर उनके विकास करने तक कितनी थकावटी व बोझिल कागजी कार्यवाही करनी पड़ती थी जिससे हमारे भीतर तनाव और निराशा का संचार होता था लेकिन मोदी सरकार ने, लघु व छोटे उद्योगो के लिए औपचारिक प्रक्रिया को बेहद सरल और सहज बना दिया है ताकि हमारे सभी युवा व व्यवसायी आसानी से इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकें।

  1. Startup India Yojana के तत 3-5 साल के आयकर से छूट

हमारे युवाओं व व्यवसायियो के आर्थिक विकास को प्रमुख प्राथमिकता दी है जिसके तहत ना केवल उन्होनें Startup India की पूरी प्रक्रिया को सहज और सरल बनाया है बल्कि साथ ही साथ 3 से लेकर 5 सालो तक आयकर से छूट भी प्रदान की है ताकि हमारे सभी आवेदको को आर्थिक चिन्ता या बोझ का सामना ना करना पड़े।

  1. पर्याप्त मात्रा में, दी जा रही है वित्तीय सहायता

यहां हम, आपको बताना चाहते है कि, देश की अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने के लिए छोटे व लघु उद्योगो का विकास बहुत जरुरी है जिसके लिए मोदी सरकार द्धारा Startup India Yojana के तहत पर्याप्त मात्रा में, वित्तीय सहायता प्रदान की जा रही है।

1.6 बिलियन डॉलर्स की वित्तीय मदद प्रदान की गई है जिसके प्रबंधन से लेकर संचालन तक की पूरी जिम्मेवारी SIDBI अर्थात् लघु उद्योग विकास बैंक ऑफ इंडिया को सौंपी गई है।

  1. अन्य सुविधायें प्रदान की जा रही है

सभी को लाभान्वित करने के लिए भारत सरकार ना केवल इसके तहत वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है बल्कि साथ ही साथ प्रशिक्षण व विकास मापक सुविधाओं के साथ – साथ तेज निकासी प्रक्रिया को भी सरल बना रही है ताकि इस योजना का लाभ बिना किसी परेशानी से लिया जा सकें।

उपरोक्त सभी मौलिक व प्राथमिक लाभ, हमारे व्यवसायियो व स्व – रोजगार करने वाले युवाओं को प्रदान किया जायेगा जिससे उनका व पूरे देश का सतत विकास होगा।

Startup India Yojana 2023 के तहत जारी लोन क्या है?

यहां पर हम, अपने सभी पाठको व युवाओ को Startup India Yojana 2023 के तहत जारी Startup India Loan के बारे में बताना चाहते है जिसके तहत सरकार ने, सभी प्रमुख बैंको व एन.बी.एफ.सी की मदद से पी.एम मुद्रा योजना की शुरुआत अप्रैल, 2015 में, किया ताकि देश के सभी लघु उद्योगो को बढ़ावा दिया जा सकें।

Startup India Loan के तहत Non – Cooperative, Non – Agricultural and MSME’s आदि को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है ताकि देश की अर्थव्यवस्था को विकसित करने व देश की विकास दर को बढ़ाने के लिए इनके योगदान को सुनिश्चित किया जा सकें।

PM Yuva Rojgar Yojana 2021

स्टार्ट अप इंडिया योजना 2023 का अभी तक का Report Card कैसा है?

स्टार्ट अप इंडिया योजना ने, ना केवल देश की अर्थव्यवस्था का मजबूती प्रदान की है बल्कि साथ ही साथ युवाओं को व्यापार व रोजगार शुरु करने के अवसर देकर आत्मनिर्भर भी बनाया है और इसीलिए हम, कह सकते है कि, इसका Report Card अभी तक सफल रहा है जिसे दर्शाने वाले कुछ बिंदु इस प्रकार से हैं –

  • ताजा आकड़ो के अनुसार 27,746 कम्पनियों को Startup India Yojana 2021 के तहत शामिल किया गया है,
  • वर्तमान में, लगभग 221 कम्पनियां इस योजना का पूरा लाभ उठा रही है,
  • वहीं छोटे व लघु उद्योगो को विकसित व आगे बढ़ाने के लिए Startup India Yojana के द्धारा 264 कम्पनियों को SIDBI अर्थात् लघु उद्योग विकास बैंक ऑफ इंडिया के तहत वित्तीय सहायता अर्थात् फंड प्रदान किया गया है,
  • द्धारा पूरी प्रक्रिया को तेज करने के लिए कुछ विशेष क्षेत्रो पर ध्यान दिया गया है जो कि, इस प्रकार से हैं – कृषि सेक्टर, सामाजिक सेक्टर, सेवा सेक्टर और शिक्षा क्षेत्रो आदि पर विशेष ध्यान दिया गया है,
  • Single Platform Use सभी सेवा प्रदान करने के लिए  Mobile App and Portal को लांच किया किया गया है आदि।

उपरोक्त रिपोर्ट कार्ड से पता चलता है कि, Startup India Yojana 2021 कितना कल्याणकारी व देश के लिए विकासकारी योजना है।

Startup India और Make in India क्यूं आये एक साथ?

देश की जी.डी.पी को बढ़ाने के साथ – साथ देश के युवाओं को रोजगार देने, लघु उद्योगो को विकसित करने और साथ ही साथ देश को विकास के पथ पर अग्रसर करने के लिए Startup India और Make in India एक साथ आये है।

जिसके तहत जहां एक तरफ युवाओं को स्व – रोजगार के अवसर प्रदान किये जाते है तो दूसरी तरफ विदेशो से आयात प्रक्रिया को समाप्त कर स्वदेशी – निर्माण प्रक्रिया को शुरु किया जा रहा है ताकि देश में, फैली बेरोजगारी की समस्या को मसाप्त करके देश के युवाओ को रोजगार मिले और देश का पैसा देश में, रहे जिससे ना केवल भारत का सतत विकास होगा।

आवेदन के लिए क्या योग्यता चाहिए?

यदि आप भी अपने व्यापार को विकसित करने और आगे बढ़ाने के लिए स्टार्ट अप इंडिया योजना के तहत आवेदन करना चाहते है तो आपको इन कुछ योग्यताओं की पूर्ति करनी होगी जैसे कि –

  • इस योजना में, आवेदन करने के लिए आपके व्यापार या कम्पनी की आयु 10 साल से अधिक नहीं होनी चाहिए,
  • आपकी कम्पनी या व्यापार को तभी स्वीकार किया जायेगा जब आपकी कम्पनी एक प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी या फिर रजिस्टर्स फर्म के तौर पर नामांकित हो,
  • आपकी कम्पनी की सालाना आय 100 करोड़ से अधिक नहीं होनी चाहिए और
  • योजना के अंतर्गत आपकी कम्पनी एक Scalable Business Model होनी चाहिए आदि।

उपरोक्त सभी योग्यताओं को पूरा करने के बाद आप आसानी से अपनी कम्पनी को विकसित करने व आगे बढ़ाने के लिए स्टार्ट अप इंडिया योजना में, आवेदन कर सकते है और इसका लाभ प्राप्त कर सकते है।

ऑफिशियल वेबसाइट से प्राप्त करें अधिक जानकारीहमारे भी आवेदक Startup India Yojana 2021 के तहत जारी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर योजना की पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

  • दफ्तर मे, जाकर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है
  • योजना के तहत किसी भी समस्या समाधान के लिए हेल्पलाइन नंबर पर सम्पर्क कर सकते है

अन्त, उपरोक्त सभी स्रोतो से ना केवल आप इस योजना की पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते है बल्कि साथ ही साथ योजना के तहत अपनी सभी समस्याओं का समाधान भी प्राप्त कर सकते है।

Leave a Comment