अंतरजातीय विवाह लाभ योजना राजस्थान 2020 – ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

अंतरजातीय विवाह लाभ योजना राजस्थान 2020

राजस्थान अन्तरजातीय विवाह लाभ प्रोत्साहन योजना 2020। ऑनलाइन अप्लाई अन्तरजातीय विवाह प्रोत्साहन लाभ योजना 2020। rajasthan antarjatiya vivah labh yojana 2020। antarjatiya vivah labh yojana 2020 antarjatiya vivah online form। inter caste marriage scheme, rajasthan। अन्तरजातीय विवाह, राजस्थान 2020 योजना।

 

राजस्थान में, वैवाहिक संस्था के पुन-निर्माण की दिशा में, एक मील के पत्थर की भूमिका निभाने वाली ’’ anter jaatiya vivah laabh yojana rajasthan ’’ का शुभारम्भ कर दिया गया हैं ताकि राजस्थान में, अन्तर-जातीय विवाहो को सामाजिक मान्यता प्रदान की जा सकें और साथ ही साथ एक नयें राजस्थान का निर्माण किया जा सकें। इस योजना के तहत अन्तर-जातीय विवाह करने वाले सभी जोडो को 5 लाख रुपयो की आर्थिक सहायता की जायेगी ताकि समाज में, अन्तर जातीय विवाहो को लेकर फैली कु-धारणा को समाप्त किया जा सकें औऱ साथ ही साथ अन्तर-जातीय विवाहो को सामाजिक स्वीकृति देकर एक नये सामाजिक क्रान्ति का शुभारम्भ किया जा सकें और कल्याणकारी लक्ष्य में, अपना योगदान करते हुए हम, आपको ’’ अन्तर-जातीय विवाह लाभ योजना 2020, राजस्थान ’’ की पूरी जानकारी देंगे, इसके मौलिक लक्ष्यो व लाभो के बारे में बतायेगे, जरुरी दस्तावेजो व पात्रताओ के बारे में, बताते हुए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया की पूरी जानकारी देंगे ताकी हमारे सभी अन्तर-जातीय विवाह करने वाले युवा इस योजना में, भारी मात्रा में, आवेदन कर सकें औऱ योजना का सफल तो बनाये ही साथ ही 5 लाख की आर्थिक सहायता से अपने नये जीवन की सकारात्मक शुरुआत कर सकें।

आज के अपने इस लेख में, हम, अपने सभी राजस्थानवासियो को और विशेष तौर पर अपने अन्तरजातीय विवाहित नव-दम्पतियो को इस सामाजिक क्रान्तिकारी योजना rajasthan antarjatiya vivah labh yojana 2020-2021, antarjatiya vivah labh yojana 2020-2021 antarjatiya vivah online form और inter caste marriage scheme, rajasthan की पूरी जानकारी देंगे, इसके मौलिक लक्ष्यो व लाभो के बारे में बताते हुए हम, अपने सभी राजस्थानवासियो को इस योजना में, घर बैठे-बैठे ऑनलाइन आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया के बारे में, बतायेगे ताकि हमारे सभी राजस्थानवासी इस योजना का लाभ ले सकें और राजस्थान को सामाजिक तौर पर सशक्त और प्रगतिशील बना सकें औऱ इसी लक्ष्य की पूर्ति के लिए ही इस योजना का क्रियान्वयन किया गया हैं।

हम, अपने इस लेख में, अपने सभी राजस्थानवासियो को इस योजना अर्थात् ’’ अंतरजातीय विवाह लाभ योजना राजस्थान 2020 ’’ की पूरी जानकारी देंगे, इस योजना की सभी विशेषातओ के बारे में बतायेगे, इस योजना में, आवेदन के लिए जरुर दस्तावेजो व पात्रताओ के बारे में बतायेगे और इसके साथ ही साथ आपको किस तरह से इस योजना में, आवेदन करना होगा ये भी बतायेगे हमारे सभी राजस्थानवासी इस योजना का अधिक से अधिक लाभ ले सकें और समाज में, परिवर्तन लाने वाली इस सामाजिक क्रान्तिकारी योजना में, अपना योगदान दे सकें।

योजना का नाम राजस्थान अन्तरजातीय विवाह योजना 2020।
योजना के पहलकर्ता राजस्थान की गहलोत सरकार।
योजना का मौलिक उद्धेश्य अन्तरजातीय विवाह के माध्यम से राजस्थान में, नई सामाजिक क्रान्ति करते हुए सम्पूर्ण राजस्थान का विकास करना।
योजना के लाभार्थी राजस्थान के सभी योग्य आवेदनकर्ता।
योजना के केद्रीय बिंदु विवाह की कुण्ठित प्रथा को समाप्त करते हुए अन्तरजातीय विवाह को, राजस्थान की नई सामाजिक पहल औऱ सामाजिक पहचान बनाना।
योजना में, आवेदन की स्थिति योजना में, ऑनलाइन आवेदन  जारी हैं।
योजना से संबंधित सभी लिंक योजना के तहत जारी आधिकारीक वेबसाइट का लिंक – https://sjms.rajasthan.gov.in/sjms/Login.aspx ।
योजना के तहत अन्तरजातीय विवाह करने पर दी जाने वाली प्रोत्साहन राशि योजना के तहत अन्तरजातीय विवाह पर सभी नव-दम्पतियो को 5 लाख रुपयो की प्रोत्साहन राशि दी जायेगी।

योजना पर सभी राजस्थानवासियो की नजर

राजस्थान सरकार, ने सामाजिक क्रान्ति करतु हुए अपने राज्य में, जाति प्रथा, जाति को लेकर प्रचलित कुरितियो, जाति को लेकर होने वाले अपराधो पर पांबदी लगाने के लिए और अन्तर-जातीय विवाहो को प्रोत्साहन देने के लिए ’’ अंतरजातीय विवाह लाभ योजना राजस्थान 2020 ’’ का शुभारम्भ कर दिया  हैं जिसके तहत सभी अन्तर-जातीय विवाह करने वाली नव-दम्पतियो को आर्थिक सहायता के तौर पर 5 लाख रुपयो की एकमुश्त प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती हैं ताकि वे अपने नव-दाम्पत्य जीवन क सुखी और सफल, सार्थक बना सकें।

सरकार की इस सामाजिक क्रान्तिपूर्ण योजना की प्रशंसा की व योजना के लिए धन्यवाद कहा

अपनी इस योजना के माध्यम से राजस्थान सरकार ने, समाज में सामाजिक क्रान्ति लाने के लिए एक बेहद कारगर कदम के तहत इस योजना अर्थात् ’’ अंतरजातीय विवाह लाभ योजना राजस्थान 2020 ’’ की शुरुआत की है जिसके तहत अब राज्य में, अन्तर-जातीय विवाहो को प्रोत्साहन दिया जायेगा और सभी अन्तर-जातीय विवाह करने वालो को सामाजिक सुरक्षा और सामाजिक मान्यता दी जायेगी ताकि वे एख स्वाभिमानपूर्ण और आत्मनिर्भर दाम्पत्य जीवन की शुरुआत कर सकें और इसीलिए राजस्थान के लोगो ने सरकार के इस कदम के लिए खुलकर प्रशंसा और धन्यवाद किया हैं।

योजना के तहत जारी मौलिक लक्ष्यो पर एक नजर

हम, अपने सभी राजस्थानवासियो को बताना चाहते हैं कि, राजस्थान सरकार की इस सामाजिक क्रान्तिपूर्ण योजना अर्थात् ’’ अंतरजातीय विवाह लाभ योजना राजस्थान 2020 ’’ के तहत कुछ बेहद मौलिक लक्ष्यो को पूरा किया जायेगा जो कि, इस प्रकार से हैं-

  • राजस्थान के समाज में, जाति को लेकर सामाजिक क्रान्ति के माध्यम से जाति-मुक्त राजस्थान का निर्माण करना,
  • राजस्थान में, सभी अन्तर-जातीय विवाह करने वालो का हर सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना,
  • अन्तर-जातीय विवाह करने वालो को सामाजिक मान्यता औऱ स्वीकृति देना,
  • हमारे सभी युवक-युवतियो को जाति की कु-प्रथा का शिकार बनने से बचाना,
  • हमारे सभी युवक-युवतियो को अपने जीवन-साथी के लिए अपनी जाति से बाहर चयन का स्वतंत्र अधिकार देना,
  • राजस्थान समाज में, जाति को लेकर होने वाले सभी अपराधो को समाप्त करना और
  • राजस्थान में, जाति को लेकर स्वच्छ और स्वस्थ वातावरण का निर्माण करना आदि।

उपरोक्त सभी मौलिक लक्ष्यो की पूर्ति इस योजना के तहत की जायेगी जो कि, राजस्थान में, जाति को लेकर एक बडी सामाजिक क्रान्ति होगी जिससे जाति-मुक्त राजस्थान का निर्माण होगा।

Read: Rajasthan Sarkari Yojana List 2020-2021

योजना के तहत जारी हुआ इसका लाभात्मक ब्लू-प्रिंट

हम, अपने सभी राजस्थानवासी आवेदको को बताना चाहते हैं कि, इस योजना के तहत दी जाने वाली आर्थिक सहायता के ब्लू-प्रिंट को जारी कर दिया गया हैं जो कि, इस प्रकार से हैं –

  1. इस योजना के तहत अन्तर-जातीय विवाह करने वाली सभी नव-दम्पतियो को आर्थिक सहायता के तौर पर 5 लाख रुपयो की आर्थिक मदद की जायेगी,
  2. इसके तहत दी जाने वाली आर्थिक सहायता अर्थात् 5 लाख रुपयो को दो भागो में बांटा जाता हैं जो कि, इस प्रकार से हैं कि,
  • 5 लाख में, से 2.50 लाख रुपयो को नव-दम्पति के संयुक्त खाते पर 8 साल के फिक्स्ड डिपॉजिट कर दिया जाता हैं,
  • इस योजना के तहत 2.50 लाख रुपयो को सीधे नव-दम्पति के संयुक्त खाते में, जमा किया जाता हैं जिससे वे अपनी नई गृहस्ति को शुरु कर सकें और अपना दाम्पत्य जीवन उज्जवल बना सकें।

उपरोक्त ब्लू-प्रिंट से हमें, योजना के तहत दी जाने वाली आर्थिक सहायता की कल्याणकारीता और दूरगामी सकारात्मक प्रभावो का पता चलता हैं।

योजना की तरफ आकर्षित करने वाले चारित्रिक पहलू

हम, अपने सभी राजस्थानवासी आवेदको को बताना चाहते हैं कि, इस योजना के कुछ ऐसे आकर्षिक करने वाले चारित्रिक पहलू हैं जो कि, इस योजना को खास बनाते हैं इस प्रकार से हैं-

  • योजना के तहत सभी नव- दम्पतियो के इस नये जीवन की शुरुआत को सार्थक, सफल और सुरभ बनाने के लिए राजस्थान सरकार अपने इन नव-दम्पतियो को एक-मुश्त राशि प्रदान करती हैं,
  • इसके तहत दी जाने वाली आर्थिक सहायता अर्थात् 5 लाख रुपयो में से 2.50 लाख रुपयो को नव-दम्पति के संयुक्त खाते पर 8 साल के फिक्स्ड डिपॉजिट कर दिया जाता हैं,
  • अन्तर-विवाह करने वाले सभी जोडो को सरकार की तऱफ से मदद करना,
  • अपनी जाति में, जबरदस्ती शादी करने के लिए मजबूर करने पर कानूनी कार्यवाही की जायेगी,
  • इस योजना के अन्तर-जातीय विवाह करने वाली नव-दम्पति का शादी के बाद बैंक में, एक संयुक्त खाता खोला जाता हैं ताकि उसमें योजना के तहत दी जाने वाली आर्थिक सहायता को जमा किया जा सकें आदि।

उपरोक्त कुछ ऐसे चारित्रिक पहलू हैं जो कि, हमें व हमारे सभी राजस्थानवासियो को इस योजना के प्रति आकर्षित करते हैं।

Read: {रजिस्ट्रेशन} एसएसओ आईडी राजस्थान

योजना के तहत इन दस्तावेजो की करनी होगी पूर्ति

हम, अपने सभी राजस्थावासी आवेदको को बताना चाहते हैं कि, इस योजना में, आवेदन के लिए कुछ दस्तावेजो की मांग की जाती हैं जिसे आपको पूरा करना होगा जो कि, इस प्रकार से हैं-

  • योजना में, आवेदन करने वाले सभी आवेदनकर्ताओ के पास राजस्थान का स्थायी निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए,
  • योजना में, आवेदन के लिए आवेदको के पास वैध आधार कार्ड व जाति प्रमाण पत्र होना चाहिए,
  • योजना में, आवेदन के लिए आवेदको के पास विवाह प्रमाण पत्र व आय प्रमाण पत्र होना चाहिए,
  • इसके साथ ही साथ सभी आवेदको के पास अपना जन्म प्रमाण पत्र, पैन कार्ड व पहचान पत्र होना चाहिए और
  • योजना में, आवेदन के लिए आवेदनकर्ता के पास उनकी शादी की एक संयुक्त तस्वीर होनी चाहिए आदि।

उपरोक्त सभी दस्तावेजो की पूर्ति करने के बाद हमारे सभी राजस्थानवासी इस योजना का पूरा लाभ ले पायेगे।

योजना में, आवेदन के लिए करना होगा इन मानदंड़ो को पूरा

हम, अपने सभी राजस्थानवासियो को बताना चाहते हैं कि, इस योजना में, आवेदन के लिए आपको कुछ मानदंडो को पूरा करना होगा जिसकी सूची इस प्रकार से हैं-

  • योजना में, आवेदन के लिए आवेदक का राजस्थान का स्थायी निवासी होना बेहद जरुरी हैं,
  • योजना में, आवेदन के लिए सभी आवेदको की आयु 35 वर्ष से अधिक नही होनी चाहिए,
  • आवेदनकर्ताओ की सालान आय ढाई लाख से अधिक ना हो,
  • आवेदनकर्ताओ के पास अपने विवाह का प्रमाण पत्र होना चाहिए,
  • इस योजना का लाभ केवल उन्हें ही मिलेगा जो पहली शादी कर रहे हैं ना कि, दूसरी या तीसरी शादी करने वालो को और
  • अन्तिम मानदंड के तौर पर योजना में, आवेदन के लिए बेहद जरुरी हैं कि, आवेदनकर्ता किसी भी आपराधिक गतिविधि में, संलग्न ना हो आदि।

उपरोक्त सभी मानदंडो को पूरा करने के बाद हमारे सभी राजस्थावासी आवेदक इस योजना में, आवेदन करके इसका लाभ ले सकते हैं।

Read: {APL/BPL} Rajasthan Ration Card New List 2020

हमारे सभी आवेदको को इस विधि से करना होगा योजना में, आवेदन

हम, अपने सभी राजस्थानवासी आवेदको को बताना चाहते हैं कि, उन्हें इस विधि से इस योजना में, ऑनलाइन आवेदन करना होगा ताकि वे इस योजना का अधिक से अधिक लाभ ले सकें जिसकी पूरी विधि इस प्रकार से हैं-

  1. सबसे पहले हमारे सभी आवेदको को इस योजना के तहत जारी आधिकारीक वेबसाइट पर जाना होगा जिसका लिक हम, अपने सभी आवेदको की सुविधा के लिए लेकर आये हैं जो कि, इस प्रकार से हैं – https://sjms.rajasthan.gov.in/sjms/Login.aspx,
  2. उपरोक्त लिंक पर क्लिक करके हमारे सभी आवेदको को इसके होम पेज पर आना होगा,
  3. होम पेज पर हमारे सभी आवेदको को ’’ रिडायरेक्त एस.एस.ओ ’’ का विकल्प मिलेगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा,
  4. इसके बाद आपके सामने एक लॉगिन का पेज खुलेगा जिसमें आपको लॉगिन करने के लिए सबसे पहले अपना पंजीकरण करना होगा,
  5. इसके बाद जब आप पंजीकरण की प्रक्रिया को पूरा कर लेते हैं तो आपको एक यूजर आई.डी व पासवर्ड मिलता हैं,
  6. उपरोक्त यूजर आई.डी व पासवर्ड की मदद से आपको पोर्टल में, लॉगिन करना होगा,
  7. पोर्टल पर लॉगिन करने के बाद आपको एस.जे.एम.एस पोर्टल पर क्लिक करना होगा,
  8. इसके बाद आप इसके डैशबोर्ड पर आ जाते हैं जहां पर आपको राजस्थान की कई सारी योजनाओ की सूची मिलेगी जिसमें से आपको ’’ अंतरजातीय विवाह लाभ योजना राजस्थान 2020 ’’ के विकल्प का चयन करना होगा,
  9. जब आप इस योजना पर क्लिक करते हैं तो इसके बाद अगले पेज पर आपको ’’ ऑनलाइन आवेदन करें ’’ का विकल्प मिलेगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा,
  10. इसके बाद आपको योजना में, आवेदन के लिए जारी आवेदन फॉर्म मिलेगा जिसे आपको बेहद सावधानी के साथ भरना होगा,
  11. आवेदन फॉर्म को भरने के बाद आपको सभी जरुरी दस्तावेजो को स्कैन करके अपलोड करना होगा औऱ साथ ही अपनी शादि की तस्वीर को भी आपको अपलोड करना होगा और
  12. अन्तिम चरण में, आपको अपने आवेदन फॉर्म को सबमिट कर देना होगा औऱ उसकी रसीद ले लेनी होगी।

उपरोक्त विघि का पालन करते हुए हमारे सभी राजस्थानवासी इस योजना में, आसानी से आवेदन कर पायेगे औऱ इसका अधिक से अधिक लाभ ले पायेगे।

FAQ’s

योजना को लेकर आपके प्रश्न और हमारे उत्तर

हमें, इस योजना को लेकर आपकी तरफ से कुछ प्रश्न मिले हैं जिनका उत्तर हमने इस प्रकार से दिया हैं-

प्रश्न – इस योजना का मौलिक लक्ष्य क्या हैं?

उत्तर – इस योजना का मौलिक लक्ष्य हैं राजस्थान में, जाति को लेकर एक सामाजिक क्रान्ति लाना और जाति-मुक्त राजस्थान का निर्माण करते हुए अन्तर-जातीय विवाहो को सामाजिक मान्यता व स्वीकृति देकर प्रोत्साहित करना।

प्रश्न – इस योजना का लाभ सभी भारतवासियो को मिलेगा?

उत्तर – इस योजना का लाभ केवल राजस्थावासियो को ही मिलेगा।

प्रश्न –  इस योजना के तहत अन्तर-जातीय विवाह करने वाली सभी नव-दम्पतियो को कितने रुपयो की आर्थिक सहायता दी जायेगी?

उत्तर – इस योजना के तहत अन्तर-जातीय विवाह करने वाली सभी नव-दम्पतियो को 5 लाख रुपयो की राशि प्रदान की जायेगी ताकि वे अपना नया जीवन आत्मनिर्भर और स्वाभिमानपूर्वक शुरु कर  सकें।

प्रश्न – योजना के तहत कितने रुपयो का फिक्स्ड डिपॉजिट किया जायेगा?

उत्तर – इस योजना के तहत प्राप्त 5 लाख रुपयो में से 2.50 लाख रुपयो को लाभार्थी दम्पति के संयुक्त खाते पर 8 सालो के लिए फिक्स्ड डिपॉजिट किया जायेगा।

प्रश्न – इस योजना में, आवेदन के लिए क्या-क्या चाहिए?

उत्तर – इस योजना में, आवेदन के लिए सभी आवेदको को योजना के तहत तय सभी दस्तावेजो  व पात्रताओ की पूर्ति करनी होगी जिसकी पूरी सूची हमने अपने इस लेख में उपलब्ध की हैं।

प्रश्न – इस योजना में, कैसे करना होगा आवेदन?

उत्तर – इस योजना मे, हमारे सभी राजस्थानवासियो को ऑनलाइन आवेदन करना होगा जिसकी पूरी विधि हमने अपने इस लेख में प्रदान की हैं ताकि आप बिना परेशानी के आवेदन कर सकें औऱ योजना का अधिक से अधिक लाभ ले सकें।

 

Leave a Comment