MP Rojgar Setu Yojana 2022 Online Registration

रोजगार सेतू योजना 2022 

मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने, राज्य के सभी बेरोजगारो व श्रमिको का रोजगार सशक्तिकरण करने के लिए राज्य स्तर पर MP Rojgar Setu Yojana 2022 ।। मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना 2022 को लांच कर दिया है जिसके तहत हमारे सभी बेरोजगारो व श्रमिको को रोगजार के अलग – अलग विकल्प प्रदान किये जायेगे ताकि वे रोजगार प्राप्त करके अपना व अपनो का सर्वांगिन विकास कर सकें।

यहां पर हम, आपको बता दें कि, kamgar setu mp gov in ।। rojgar setu registration के लिए हमारे सभी बेरोजगार व श्रमिको के पास स्थायी मूल निवास प्रमाण पत्र व समग्र आई.डी होना चाहिए जिसके बाद आप अपने जिले के संबंधित कार्यालय मे जाकर इस एम.पी रोजगार सेतु स्कीम 2022 – पूरी जानकारी हिंदी में प्राप्त भी कर सकते है और योजना में आवेदन भी कर सकते है।

अन्त, आप सभी इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकें इसके लिए हम, आपको इस योजना – MP Rojgar Setu Yojana 2022 ।। मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना 2022 आवेदन प्रक्रिया, दस्तावेजो व योग्यताओं के बारे में, विस्तार से बतायेगे ताकि आप सभी इस योजना में, आवेदन करके इसका लाभ प्राप्त कर सकें।

हम, अपने इस लेख में, अपने सभी मध्य प्रदेश वापस आये प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को इस योजना अर्थात् rojgar setu yojana 2022 Madhya Pradesh की पूरी जानकारी देंगे, उसके उद्धेश्यो और लक्ष्यो के बारे मे बतायेगे, योजना में, मांगे जाने वाले दस्तावेजो और पात्रताओ के बारे मे बतायेगे, इस योजना से संबंधित सभी सत्यो व तथ्यों के बारे में बताते हुए इस योजना में, कैसे आवेदन करना होगा इसकी पूरी प्रक्रिया के बारे में, बतायेगे ताकि हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहन अपना सामाजिक व आर्थिक विकास कर सकें और इस संकट के समय में, एक संतुलित व सुचारु जीवन जी सकें।

MP Rojgar Setu Yojana 2022

   मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना 2022

योजना का नाम मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना 2022
योजना के पहलकर्ता मध्य प्रदेश सरकार।
योजना का मौलिक उद्धेश्य मध्य प्रदेश वापस आये सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो का सामाजिक व आर्थिक विकास करना।
योजना के लाभार्थी मध्य प्रदेश वापस आये सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहन।
योजना के केद्रीय बिंदु कोरोना के मार झेल रहे सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो का सर्वांगिन विकास कर उन्हें एक सुचारु जीवन प्रदान करना।
योजना में, आवेदन की स्थिति योजना में, आवेदन जारी हैं।

मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना –  मौलिक लक्ष्यो पर एक नजर

हम, अपने सभी मध्य प्रदेश वापस आये मजदूर भाई-बहनो को, इस योजना के मौलिक लक्ष्यो के बारे में, बताना चाहते हैं जो कि, इस प्रकार से हैं-

  1. इस योजना के माध्यम से अपने सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो का सामाजिक व आर्थिक सशक्तिकरण करना,
  2. अपने सभी प्रवासी भाई-बहनो को उनकी शैक्षणिक योग्यता के अनुसार मनरेगा के तहत रोजगार प्रदान करना,
  3. मध्य प्रदेश वापस आये सभी प्रवासी भाई-बहनो को रोजगार के हर संभव जरुरतो की पूर्ति की जायेगी,
  4. सभी प्रवासी भाई-बहनो को एक सामान्य और संतुलित जीवन को प्रदान करने की कोशिश की जायेगी और
  5. इस योजना की मदद से सभी प्रवासी भाई-बहनो का सतत विकास करते हुए उन्हें कोरोना से लड़ने योग्य बनाना हैं आदि।

उपरोक्त सभी मौलिक लक्ष्यो की पूर्ति इस योजना के तहत की जायेगी।

मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना – मिलने वाले लाभो पर एक नजर

हम, अपने सभी मध्य प्रदेश वापस आये मजदूर भाई-बहनो को, इस योजना से मिलने वाले लाभो के बारे में, बताना चाहते हैं जो कि, इस प्रकार से हैं-

  1. इस योजना की मदद से हमारे सभी प्रवासी भाई-बहनो को एक संतुलित व सुचारु जीवन की प्राप्ति होगी,
  2. इस योजना की मदद से हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को रोजगार की आपूर्ति की जायेगी,
  3. इस योजना की मदद से हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो का सामाजिक व आर्थिक विकास संभव हो सकेंगा,
  4. इस योजना की मदद से हमारे सभी प्रवासी मजूदरो को उनकी शैक्षणिक योग्यतानुसार मनरेगा में, रोजगार की प्राप्ति होगी और
  5. इस योजना के माध्यम से प्राप्त लाभो के आधार पर हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को कोरोना के दुष्परिणामो से मुक्ति मिलेगी और वे एक संतुलित जीवन जी पायेगे आदि।

उपरोक्त सभी लक्ष्यो की प्राप्ति इस योजना के माध्यम से हमारे प्रवासी भाई-बहनो को होगी।

रोजगार सेतु योजना – परिचय

इस योजना अर्थात् रोजगार सेतु योजना का शुभारम्भ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री. शिवराज सिंह चौहान द्धारा किया गया हैं ताकि राज्य के मजदूर वापस अपनी मिट्टी में आ सकें और इस संकट के समय अपने परिवार के साथ रहते हुए कोरोना को हराने में अपना योगदान दें।

इस योजना के तहत हमारे वापस आये प्रवासी मजदूरो को आर्थिक, खाद्य और व्यावसायिक सुरक्षा प्रदान की जायेगी और इसी लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए प्रवासी मजदूरो को रोजगार के तमाम मौके दिये जायेंगे ताकि वे अपना और अपना परिवार का सही और संतुलित तरीके से पालन-पोषण कर सकें।

प्रवासियों की आर्थिक स्थिति में सुधार व सुरक्षा का लक्ष्य

हम अपने सभी मध्य प्रदेश वापस आये प्रवासी मजदूरो को बताना चाहते हैं कि, इस योजना अर्थात् रोजगार सेतू योजना 2020 का मुख्य लक्ष्य प्रवासी मजदूरो को रोजगार प्रदान करके आत्मनिर्भर औऱ आत्मसशक्त बनाकर उनके और उनके परिवार का सुचारु पालन-पोषण करना हैं।

इस योजना के तहत प्रवासी मजदूरों को वित्तीय सहायता, भोजन सहायता के साथ-साथ आजीविका सहायता उनकी आर्थिक और सामाजिक स्थिति को बनाए रखने के लिए है ताकि वे इस संकट की घड़ी में हिम्मत न हारें। इसलिए, इस योजना के माध्यम से, वे अपने आर्थिक और व्यावसायिक सशक्तिकरण का लक्ष्य रखते हैं ताकि वे और उनके परिवार अपना जीवन सुचारू रूप से जी सकें।

Read: {आवेदन} उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना 2022

योजना के तहत दिया जायेगा इन क्षेत्रो में रोजगार

इस योजना के तहत प्रवासी मजदूरो को जिन क्षेत्रो में रोजगार दिया जायेगा उसकी एक सूची इस प्रकार हैं-

  1. भवन व अन्य निर्माण कार्यो में,
  2. ईट भट्टा खनन कार्यो मे
  3. कपडा व फैक्टरी कार्यों में,
  4. खेती से संबंधित कार्यो में आदि।

योजना से संबंधित सत्य व तथ्य

हम अपने सभी पाठको को इस योजना से संबंधित सभी सत्य व तथ्यो एक सूची प्रदान करना चाहते हैं जो कि, इस प्रकार हैं-

  1. इस योजना का लाभ केवल प्रवासी मजदूरो को ही मिलेगा,
  2. इन प्रवासी मजदूरो को रोजगार के सभी मौके दिये जायेगें,
  3. इस योजना के तहत प्रवासी मजदूरो की योग्यता के आधार पर ही उन्हें रोजगार दिया जायेगा,
  4. इस योजना के तहत चयनित लाभार्थियो को मनरेगा के तहत रोजगार मिलेगा,
  5. रोजगार पाने के लिए सभी प्रवासी मजदूरो को ऑनलाइन अपना पंजीकरण करवाना होगा,
  6. रोजगार सेतू पोर्टल पर अपना पंजीकरण करते समय सभी जानकारी सही-सही दर्ज करनी होगी,
  7. इस योजना का मुख्य उद्धेश्य प्रवासी मजदूरो को आर्थिक सुरक्षा देते हुए उन्हें आत्मनिर्भर बनाना हैं।

Read: {ऑनलाइन फॉर्म} प्रधानमंत्री किसान ट्रेक्टर योजना 2022

इन पात्रताओं को करना होना पूरा

इस योजना के तहत लाभार्थियो के चयन के लिए कुछ पात्रताओँ को तय किया गया हैं जो कि, इस प्रकार हैं-

  1. आवेदन करने वाला व्यक्ति मध्य प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए,
  2. आवेदनकर्ता बेरोजगार औऱ मजदूर श्रमिक होना चाहिए व
  3. आवेदनकर्ता के पास समग्र आई.डी होनी चाहिए आदि।

उपरोक्त पात्रताओँ की पूर्ति के बाद ही इस योजना में आवेदन किया जा सकेगा।

योजना के लिए जरुरी दस्तावेज

इस योजना में आवेदन करने के लिए हमारे इच्छुक उम्मीदवारो को कुछ दस्तावेजो की पूर्ति करनी होगी जो कि, इस प्रकार हैं-

  1. आवेदनकर्ता के पास आधार कार्ड व पहचान पत्र होना चाहिए,
  2. आवेदनकर्ता के पास निवास प्रमाण पत्र व श्रमिक कार्ड होना चाहिए,
  3. आवेदनकर्ता के पास सक्रिय मोबाइल नंबर और ताजा हाल ही की तस्वीर होनी चाहिए आदि।

उपरोक्त दस्तावेजो के आधार पर ही इस योजना में आवेदन किया जा सकेगा।

Read: प्रधानमंत्री आवास योजना ऑनलाइन आवेदन 2022

इस तरह से करना होगा योजना में आवेदन

हम अपने सभी पाठको व प्रवासी मजदूरो को बताना चाहते हैं कि, इस योजना में आवेदन करने के लिए उन्हें कुछ प्रक्रियाओँ का पालन करना होगा जो कि, इस प्रकार हैं-

  1. सबसे पहले प्रवासी मजदूरो को अपनी समग्र आई.डी बनवानी होगी,
  2. इसके बाद श्रमिको का सर्वे, सत्यापन व पंजीकरण सुनिश्चित करनी होगी,
  3. इसके बाद समग्र पोर्टल पर समग्र आई.डी अंकित करना होगा,
  4. सभी योग्य मजदूरो को आवेदन फॉर्म भरकर  पोर्टल पर अपलोड करना होगा औऱ इसके साथ ही आपका आवेदन इस योजना के लिए स्वीकार कर लिया जायेगा और इस योजना के तहत आपको लाभ प्रदान किये जायेंगे।

उपरोक्त सरल प्रक्रिया का पालन करके हमारे प्रवासी मजदूर भाई-बहन इस योजना में आवेदन कर सकते हैं।

अन्त, हमने आपके सामने इस योजना की हर जानकारी प्रदान की ताकी दूसरे राज्यों से लौट रहे मध्य प्रदेस के प्रवासी मजदूर इस योजना का लाभ लेकर अपना और अपने परिवार का सुचारू तरीके से पालन-पोषण कर सकें औऱ कोरोना को हराने में देश की मदद कर सकें।

Read: {1100} मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन नंबर

आशा करते हैं हमारे द्वारा बताई गई जानकारी आपको लाभदायक साबित हुई होगी इसी प्रकार की जानकारी के लिए आप हमसे ऐसे ही जुड़े रहिये और अपनी राय हमें कमेंट करके ज़रूर बताइये इससे हमें भविष्य में और बेहतर कंटेंट लाने में सहायता मिलती है , धंन्यवाद।

Leave a Comment