क्रिप्टो करेंसी क्या है? Cryptocurrency Kya Hota Hai in Hindi

क्रिप्टो करेंसी क्या है? Cryptocurrency Kya Hota Hai in Hindi

क्रिप्टो करेंसी क्या है?

cryptocurrency kya hai/ hoti hai/hindi mein bataiye | क्रिप्टो करेंसी क्या है हिंदी में बताएं | what is Cryptocurrency in hindi

क्या आप What is crypto currency In Hindi? के बारे में जानते है यदि नहीं जानते है तो आपके लिए आज ये जानना बेहद जरुरी हो गया है क्योंकि आजकल राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय बाज़ार में, क्रिप्टो करेंसी की मांग और धूम दोनों ही मची हुई है और बहुत तेज़ गति से क्रिप्टो करेंसी International Financial Market में अपनी बादशाहत कायम कर चुका है इसलिए हम, अपने इस आर्टिकल की मदद से आपको विस्तार से What is crypto currency In Hindiके बार में, भी बतायेंगे।

क्रिप्टो करेंसी को आमतौर पर डिजिटल करेंसी के नाम से भी जाना जाता है क्योंकि इसे अन्य मुद्राओँ की भांति छूआ नहीं जा सकता है बल्कि ऑनलाइन माध्यम से इसका केवल लेन – देन किया जा सकता है और यही क्रिप्टो करेंसी की सबसे बड़ी विशेषता मानी जाती है।

Cryptocurrency Kya Hai in Hindi

अन्त, इस आर्टिकल में आपको विस्तारपूर्वक What is crypto currency In Hindi/Cryptocurrency Kya Hai की जानकारी प्रदान की जायेगी ताकि आप भी क्रिप्टो करेंसी की पूरी जानकारी प्राप्त कर सकें और इसका लाभ प्राप्त कर सकें।

What is Crypto Currency In Hindi?

आइए अब हम, अपने सभी पाठकों को कुछ बिंदुओँ की मदद से बतायें कि, क्रिप्टो करेंसी क्या होता है जो कि, इस प्रकार से हैं-

  1. सबसे पहले हम, आपको बता दें कि, क्रिप्टो करेंसी को Digital Currency and Online Currency कहा जाता है क्योंकि इसके लेन – देन की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन ही होती है,
  2. Crypto Currency को बनाने में मूलतौर पर Cryptography Technology का प्रयोग किया जाता है,
  3. क्रिप्टो करेंसी को आमतौर पर Digital Asset भी माना जाता है जिसका प्रयोग सामान्यतौर पर ऑनलाइन खरीददारी के लिए किया जाता है,
  4. क्रिप्टो करेंसी की मदद से ऑनलाइन खरीददारी करने के लिए एक विशेष तकनीक अर्थात् Cryptography Technology का प्रयोग किया जाता है जो कि, मूलतौर पर Peer to Peer Electronic System होता है और इसी की मदद से हम, आसानी से इन्टरनेट या ऑनलाइन जाकर खरीददारी कर पाते है,
  5. Crypto Currency के तहत यदि सबसे पहले लाई की मुद्रा की बात करें तो वो है Bitcoin जिसे दुनिया में, सबसे पहले लांच किया गया था,
  6. ताज़ा आंकड़ो की मानें तो आज के समय में पूरी दुनिया में लगभग 1,000 Crypto Currency मौजूद है आदि।

उपरोक्त बिंदुओं की मदद से हमने आपको विस्तार से बताया कि, Cryptocurrency Kya Hai? अर्थात् Cryptocurrency kya hai ताकि आप Crypto Currency को लेकर अपनी जानकारी में वृद्धि कर सकें।

Crypto Currency कुल कितने प्रकार के होते है?

क्या आप जानते है कि, Crypto Currency कुल कितने प्रकार के होते है? यदि नहीं जानते है तो हम, आपको कुछ बिंदुओँ की मदद से विस्तार से बतायेंगे कि, Crypto Currency के कुल कितने प्रकार होते है जो कि, इस प्रकार से हैं-

Bitcoin (BTC) in Hindi

Bitcoin (BTC ) है दुनिया की सबसे पहली Crypto Currency

जब भी Crypto Currency के प्रकार की बात की जायेगी तो सबसे पहले  Bitcoin (BTC ) का नाम लिया जायेगा क्योंकि Bitcoin (BTC ) को ही दुनिया की सबसे पहली Crypto Currency होने का गौरव प्राप्त है और हम, आपको बता दें कि, Bitcoin (BTC ) को सबसे पहले साल 2009 में, Satoshi Nakamoto द्धारा लांच किया गया था।

Bitcoin (BTC ) की सभी विशेषतायें इस प्रकार से हैं-

  • Bitcoin (BTC ) एक Digital Currency है जिसका प्रयोग सामान्यतौर पर ऑनलाइन सामान खरीदने के लिए किया जाता है,
  • हम, आपको बता दें कि, Bitcoin (BTC ) एक ऐसी Digital Currency है जिस पर सरकार का काई आधिकारी कंट्रोल या नियंत्रण नहीं है क्योंकि Bitcoin (BTC ) वास्तव में एक De-Centralized Currency है,
  • और वर्तमान समय में एक Bitcoin (BTC ) की कीमत 13 लाख से भी ज्यादा मानी जाती है आदि।

यूट्यूब चैनल से पैसे कैसे कमाए

  1. Ethereum (LTH) Coin in Hindi

क्रिप्टो करेंसी के Bitcoin (BTC ) के बाद इसके दूसरे प्रकार की बात करें तो Ethereum ( ETH ) को क्रिप्टो करेंसी का दूसरा प्रकार माना जाता है जो कि, Bitcoin (BTC ) की ही तरह Open Source De- Centralized Block chain Based Computing Platform  है।

Ethereum ( ETH ) की विशेषतायें इस प्रकार से हैं-

  • Ethereum ( ETH ) को क्रिप्टो करेंसी का दूसरा सबसे लोकप्रिय व प्रसिद्ध प्रकार माना जाता है,
  • Ethereum ( ETH ) के खोजकर्ता के तौर पर Vitalik Buterin को माना जाता है आदि।

Litecoin ( LTC ) in Hindi

Litecoin ( LTC ) क्रिप्टो करेंसी का तीसरा सबसे प्रसिद्ध प्रकार हैं और इसकी सबसे बड़ी विशेषता यह है कि, Litecoin ( LTC ) की सभी विशेषतायें आमतौर पर Bitcoin (BTC ) से मिलती जुलती है। हम, आपको बता दें कि, क्रिप्टो करेंसी के इस तीसरे प्रकार अर्थात् Litecoin ( LTC ) को भी एक De-Centralized Peer to Peer Crypto Currency है जिसे आमतौर पर Open Source Software माना जाता है।

Litecoin ( LTC ) की विशेषतायें इस प्रकार से हैं-

  • MIT/X11 License के तहत अक्टूबर 2011 में इसके खोजकर्ता अर्थात् Charles Lee द्धारा लांच किया गया था जो भूतपूर्व Google Employee माने जाते है,
  • Litecoin ( LTC ) की Block Generation Timing को Bitcoin (BTC ) से 4 गुणा कम माना जाता है जिससे बेहद जल्दी व त्वरित गति से रुपयो का ट्रांसजेक्शन हो जाता है और
  • Litecoin ( LTC ) के तहत Mining Script algorithm का प्रयोग किया जाता हैं आदि।

फेसबुक से पैसे कैसे कमाए

Dogecoin in Hindi

Crypto Currency के इस चौथे प्रकार की उत्पत्ति एक मजाक व आलोचना के रुप मे हुई थी क्योंकि Crypto Currency के सबसे लोकप्रिय प्रकार अर्थात् Bitcoin (BTC ) का मजाक बनाने और इसकी तुलना कुत्ते से करने के लिए Dogecoin ( Doge ) का प्रयोग किया गया और इसी ने आगे चलकर क्रिप्टो करेंसी के चौथे प्रकार का रुप धारण कर लिया।

Dogecoin ( Doge ) की विशेषतायें क्या है-

  • Dogecoin ( Doge ) का निर्माण Billy Markus द्धारा किया गया,
  • Dogecoin ( Doge ) में, भी Litecoin ( LTC ) की ही तर्ज पर Script algorithm का प्रयोग किया जाता है,
  • वर्तमान समय में Dogecoin ( Doge ) की कीमत लगभग Market Value $197 Million से भी अधिक आंका जाता है,
  • आधिकारीक तौर पर Dogecoin ( Doge ) के पूरी दुनिया में लगभग 200 से भी ज्यादा मर्चेन्ट्स द्धारा इसे स्वीकार किया जाता है आदि।

Faircoin in Hindi

air coin in hindi

क्रिप्टो करेंसी के तहत Faircoin ( FAIR ) को पांचवा प्रकार माना जाता हैं जो कि, मूलतौर पर Grand Socially Conscious Vision Spain Based Co-Operative Organization है जिसे आमतौर पर Catalan Integral  Cooperative or CIC के नाम से भी जाना जाता है।

Faircoin ( FAIR ) की विशेषतायें इस प्रकार से हैं-

  • Faircoin ( FAIR ) भी आमतौर पर Bitcoin की Block Chain Technology का प्रयोग करती है,
  • हम, आपको बता दें कि, Faircoin ( FAIR ) क्रिप्टो करेंसी के अन्य कॉइन्स पर बिलकुल भी निर्भर नहीं करता है,
  • Faircoin ( FAIR ) में, सभी प्रकार के Coins को Verify करने के लिए आधिकारीक तौर पर Proof of Stake or Proof of Work की जगह पर Proof of Cooperation का प्रयोग किया जाता है आदि।

LPN Token Kya Hai In Hindi

DASH Coin in Hindi

dash coin in hindi

Crypto Currency के इस प्रकार अर्थात् Dash ( DASH)  को कई अलग – अलग नामों से जाना जाता है जैसे कि – Xcoin, Darkcoin and Dash आदि जो कि, Bitcoin की ही तरह Open Source Peer to Peer Crypto Currency Platform पर काम करता है।

Dash (DASH) की विशेषतायें इस प्रकार से हैं-

  • Dash का अर्थ होता है – Digital + Cash = Digital Cash,
  • Dash में आपको Bitcoin की तुलना में काफी Amazing Features मिलते है जैसे कि – Instant Send, Private Send जिनकी मदद से आप आसानी से ऑनलाइन शॉपिंग कर पाते है,
  • Dash में आमतौर पर Uncommon Algorithm का प्रयोग किया जाता है,
  • Dash अर्थात X11 की विशेषता ये है कि, ये Low Powerful Hardware के साथ भी आसानी से Compatible हो जाता है,
  • और तो और Dash में, 30 प्रतिशत कम बिजली की खपत कम होती है आदि।

Peercoin ( PPC ) in Hindi

Peercoin in hindi

क्रिप्टो करेंसी के इस प्रकार को Peercoin ( PPC ) कहा जाता हैं जो कि, Bitcoin Protocol  पर आधारित होता है जिसके तहत किसी भी लेन – देन की पुष्टि के लिए Proof of Work के साथ ही साथ Proof of Stake का भी प्रयोग किया जाता है,

Peercoin ( PPC ) की विशेषतायें इस प्रकार से हैं-

  • Peercoin ( PPC ) में भी Bitcoin Peer to Peer Crypto Currency का प्रयोग किया जाता है,
  • हम आपको बता दे कि, Peercoin ( PPC ) मूलतौर पर MIT/X11 License के तहत आता है,
  • Peercoin ( PPC ) में भी Bitcoin SHA-256 Algorithm का प्रयोग किया जाता है आदि।

Ripple (XRP) in Hindi 

Crypto Currency  के तहत Ripple ( XRP ) को एक मुख्य प्रकार के तौर पर माना जाता है जिसे आधिकारीक तौर पर साल 2012 में लांच किया गया था।

Ripple ( XRP ) की सभी विशेषतायें इस प्रकार से हैं-

  • Ripple ( XRP ) मूलतौर पर Distributed Open Source Protocol based माना जाता है,
  • Ripple ( XRP ) क्रिप्टो करेंसी का एक मात्र ऐसा प्रकार है जो कि, खुद की क्रिप्टो करेंसी चलाता है जिसे Ripple ( XRP ) ही कहा जाता है,
  • Ripple ( XRP ) को आमतौर पर Real Time Gross Settlement System ( RTGS ) माना जाता है आदि।

Monero ( XMR ) Coin in Hindi

Monero Coin in Hindi

क्रिप्टो करेंसी के इस प्रकार के बारे में हम, आपको बता दें कि, Monero ( XMR ) की उत्पति मूलत BItcoin के Fork से साल 2014 में हुई थी।

Monero ( XMR ) की विशेषतायें इस प्रकार से हैं-

  • Monero ( XMR ) क्रिप्टो करेंसी के सभी सिस्टम्म पर वर्क करता है जैसे कि – Windows, Mac, Linux, Android and Free BSD पर आसानी से काम करता है,
  • Monero ( XMR ) में Consumer Level CPU’s का प्रयोग किया जाता है आदि।

उपरोक्त सभी बिदुंओँ की मदद से हमने आपको विस्तारपूर्वक क्रिप्टो करेंसी के अलग – अलग प्रकारों के बारे में बताया ताकि आप इन प्रकारों की पूरी जानकारी प्राप्त करके अपने ज्ञान में, वृद्धि कर सकें।

Crypto Currency के Benefits क्या है?

  1. Crypto Currency से लेन – देन करते समय धोखाघड़ी होने की संभावना बेहद कम होती है,
  2. हम, आपको बता दें कि, Crypto Currency को आमतौर पर Normal Digital Payment System से भी अधिक Safe and Secure माना जाता है,
  3. Crypto Currency के तहत आपको बेहद कम ट्रांजेक्शन फीस देनी होती है और
  4. Crypto Currency के तहत आप आसानी से अपना अकांउट बना सकते है जो कि, पूरी तरह से सुरक्षित होता है आदि।

उपरोक्त बिंदुओँ की मदद से हमने आपको Crypto Currency के फायदों के बारे में, बताया।

Crypto Currency के नुकसान क्या-क्या है?

  1. Crypto Currency में सबसे बड़ा नुकसान ये होता है कि, इसमें यदि आपने एक बार कोई ट्रांजेक्शन कर दिया तो आप उसे वापस Reverse नहीं कर सकते है और
  2. Crypto Currency के तहत आपकी Wallet ID बेहद महत्वपूर्ण मानी जाती है क्योंकि यदि आप किसी वजह से इसे एक बार भी खो देते है तो समझ लीजिए कि, आप इसे दुबारा से प्राप्त नहीं कर सकते है और इसी में आपकी सभी Cryptocurrency Kya Hai in Hindi  होती है और यही इसका सबसे बड़ा नुकसान होता है आदि।

उपरोक्त बिंदुओँ कि, मदद से हमने आपको विस्तारपूर्वक Crypto Currency के नुकसानों के बारे में बताया।

निष्कर्ष

हमने इस आर्टिकल में आप सभी को विस्तार से Cryptocurrency Kya Hai के लाभ व नुकसान के साथ ही साथ इसके अलग – अलग प्रकारों के बारे में, विस्तार से जानकारी प्रदान की ताकी आप सभी आसानी से Crypto Currency को लेकर अपनी अज्ञानता को दूर सकें और Crypto Currency को लेकर अपने ज्ञान में वृद्धि करके इसका सफल प्रयोग कर सकें।

इसे भी पढ़े…

आशा करते हैं हमारे द्वारा बताई गई जानकारी आपको लाभदायक साबित हुई होगी इसी प्रकार की और जानकारी के लिए आप हमसे ऐसे ही जुड़े रहिये और अपनी राय हमें कमेंट करके ज़रूर बताइये इससे हमें भविष्य में और बेहतर कंटेंट लाने में सहायता मिलती है , धंन्यवाद।

Leave a Comment