राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम 2021 - Rashtriya Bal Swasthya Karyakram (RBSK) - Sarkari Yojana 2023 | सरकारी योजना 2023

राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम 2021 – Rashtriya Bal Swasthya Karyakram (RBSK)

Rashtriya Bal Swasthya Karyakram 2021

RBSK 2021 ।। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम 2021 ।। rashtriya bal swasthya karyakram 2021 ।। rashtriya bal swasthya karyakram 2021 ।। rbsk latest news? ।। rashtriya bal swasthya karyakram in hindi – पूरी जानकारी ।।

Introduction

RBSK 2021 का पूर्ण रुप ’’ राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम 2021 ’’ है जिसकी शुरुआत भारत सरकार ने, साल 2013 के फरवरी माह में, देश की शिशु मृत्यु दर को नियंत्रित करने के साथ – साथ शिशु से लेकर 18 वर्षीय युवाओं के स्वास्थ्य सशक्तिकरण के लिए जारी किया गया था जिसके तहत ना केवल उन्हें नि-शुल्क इलाज की सुविधा प्रदान की जायेगी बल्कि उनके उज्जवल भविष्य का भी निर्माण किया जायेगा।

इस योजना के तहत जन्म से लेकर 18 साल के हो चुके सभी युवाओं को अलग – अलग प्रकार के स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ प्रदान किया जायेगा ताकि ना केवल उनका स्वास्थ्य संरक्षण  हो सकें बल्कि साथ – साथ उनका RBSK 2021 के तहत शिशु से लेकर 18 वर्षीय युवा के भीतर 4डी कमियों की खोज करके उनका उपचार भी किया जायेगा।

अन्त, हम, अपने इस लेख में, अपने सभी अभिभावको व युवाओं को राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम 2021, rashtriya bal swasthya karyakram 2021 और rashtriya bal swasthya karyakram in hindi – पूरी जानकारी प्रदान करेंगे ताकि आप सभी इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकें।

Short Details

भारत सरकार की नई योजना राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम 2021।
योजना की शुरुआत किसने और कब की? भारत सरकार द्धारा फरवरी, 2013 में, शुरु किया गया था।
योजना का केंद्रीय उद्धेश्य नवजात शिशुओं से लेकर 18 वर्षीय युवाओँ का स्वास्थ्य संरक्षण व सशक्तिकरण करना।
इन्हें मिलेगा योजना का लाभ देश के सभी बच्चो व युवाओं को इस योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा।
योजना के तहत जारी आधिकारीक वेबसाइट का लिंक https://rbsk.gov.in/RBSKLive/Default.aspx
योजना के तहत जारी हेल्पलाइन नंबर / सम्पर्क सूत्र https://rbsk.gov.in/RBSKLive/UI/ContactUs.aspx

 

RBSK 2021 व इसके मौलिक लक्ष्य क्या है?

हम, कुछ बिंदुओं की मदद से ना केवल RBSK 2021 के बारे में बल्कि इसके सभी मौलिक लक्ष्यो के बारे में भी आपको बताना चाहते हैं जो कि, इस प्रकार से हैं –

RBSK 2021 क्या है?

भारत सरकार ने, शिशु मृत्यु दर व बाल रोंगो की समस्याओं को कम करने के लिए साल 2013 के फरवरी महिने में, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम (RBSK 2021 ) का शुभारम्भ किया था ताकि ना केवल बच्चो के मृत्यु दर को रोका जा सकें बल्कि उनके सतत व सर्वांगिन स्वास्थ्य के लिए पर्याप्त व्यवस्थायें  करके उनके भविष्य को उज्जवल और विकासमय बनाया जा सकें।

लाडली योजना आवेदन फॉर्म

RBSK 2021 के मौलिक लक्ष्य क्या है?

राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम 2021 के सभी मौलिक लक्ष्य इस प्रकार से हैं –

  1. शिशु मृत्यु दर को कम से कम करना,
  2. शिशुओं के स्वास्थ्य संबंधी मुद्दो की जानकारी प्राप्त करना,
  3. बच्चो के स्वास्थ्य के लिए बिमारीयों की खोज करके उनका उपचार करना,
  4. RBSK 2021 के तहत शिशु से लेकर 18 वर्षीय युवा के भीतर 4डी कमियों की खोज करके उनका उपचार करना और
  5. भारत के बाल भविष्य को स्वस्थ, सफल और उज्जवल बनाना है आदि।

उपरोक्त सभी मौलिक लक्ष्यो को इस योजना के तहत प्राप्त करके ना केवल शिशुओं के भविष्य को सुरक्षित किया जायेगा ब्लकि साथ ही साथ उनका सतत विकास भी किया जायेगा।

rashtriya bal swasthya karyakram 2021 – कौन से 4 डी.एस कार्यों को किया जायेगा?

यहां आपके लिए ये जानना बेहद जरुरी है कि, भारत सरकार द्धारा जारी इस बाल सशक्तिकरण योजना मूलत 4 डी.एस के सिद्धान्त पर कार्य करेगी जिसकी पूरी सूची इस प्रकार से हैं –

  1. DS -1, जन्मजात रोंगो का पता लगाना – rashtriya bal swasthya karyakram 2021 के तहत पहले डी.एस के तहत जन्म लेने वाले सभी बच्चो के जन्मजात रोंगो का पता लगाया जायेगा ताकि उनका निदान करके उन्हें सुरक्षित किया जा सकें,
  2. डी.एस – 2, बच्चो में, कुपोषण का पता लगाने के लिए – राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम 2021 के तहत मूलत जोर दिया जायेगा कि, कुपोषण के साथ जन्में बच्चो की पहचान की जाये और समय रहते उनका उपचार करके उनका स्वास्थ्य विकास किया जाये,
  3. डी.एस -3, बच्चो की लिए घातक बिमारियों का पता लगाना – कई बार बच्चो को जन्म से ही कुछ मामूली बिमारीयां होती है लेकिन कई बार कुछ गंभीर बिमारीयां भी बच्चो को घेर लेती जिसकी वजह से बच्चो को अपनी जान भी गंवानी पड़ती है और
  4. डी.एस -4, देरी से विकास के कारणों का पता लगाना – जन्म के बाद आमतौर पर बच्चे सामान्य गति से विकास करते है लेकिन कुछ बच्चे जन्म के बाद भी धीमी गति से विकास करते है जिसकी वजह से उन्हें अपूरणीय क्षति उठानी पड़ती है, इनके कारणो की पहचान की जायेगी और उनका निदान किया जायेगा।

{आवेदन} Surakshit Matritva Aashwasan Yojana 2021

उपरोक्त सभी डी.एस मानदंडो व सिद्धान्तो पर rashtriya bal swasthya karyakram 2021 का संचालन किया जायेगा ताकि ना केवल बच्चो का स्वास्थ्य सशक्तिकरण किया जा सकें बल्कि उनका सतत व सर्वांगिन विकास किया जा सकें।

राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम 2021 – कौन सी चिकित्सीय सुविधायें नि-शुल्क प्रदान की जायेगी?

जैसा कि, हम और आप सभी जानते है कि, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम 2021 को मूलत बालको के स्वास्थ्य विकास व सशक्तिकरण के लिए जारी किया गया है जिसके तहत ना केवल नि-शुल्क स्वास्थ्य सुविधायें प्रदान की जायेगी बल्कि उनके उज्जवल भविष्य का भी निर्माण किया जायेगा।

इस योजना के तहत के तहत दी जाने वाली सभी नि-शुल्क चिकित्सीय सुविधायें इस प्रकार से हैं-

  1. जिन शिशुओं का जन्म सरकारी स्वास्थ्य केंद्रो पर हुआ है उन्हें उनके जन्म से लेकर 48 घंटो तक चिकित्सीय सेवाओं के तहत ANC, DOCTOR और नर्स की सेवायें प्रदान की जायेगी,
  2. जिन बच्चो का जन्म घर पर हुआ है या फिर जो बच्चे अपने जन्म के बाद अस्पतालों से वापस आ गये है उन्हें एच.बी.एन.सी के तहत 48 घंटो से लेकर कुल 6 सप्ताह तक आशा कार्यकर्ता की सेवायें प्रदान की जायेगी,
  3. देहाती व शहरी क्षेत्रो के जो बच्चे अभी तक स्कूल नहीं जाते है उन्हें 6 सप्ताह से लेकर 6 साल तक चलन्त स्वास्थ्य दल की सेवायें प्रदान की जायेगी,
  4. सरकारी वित्त-पोषित विघालयों में शिक्षा प्राप्त करने वाले कक्षा 1 से लेकर 12वीं तक के सभी विद्यार्थियों को 6 साल से लेकर 18 साल तक चलन्त स्वास्थ्य दल की सेवायें प्रदान करके उनका स्वास्थ्य सशक्तिकरण करना आदि।

RBSK 2021 कौन – कौन से कार्यो को किया जायेगा?

भारत के सभी पाठको व बालको के अभिभावको को हम, RBSK 2021 के कार्यो के बारे में, बताना चाहते हैं जो कि, इस प्रकार बिंदुओं के अनुसार प्रस्तुत है –

  1. नियुक्ति कार्य – RBSK 2021 योजना के तहत बाल स्वास्थ्य संरक्षण के साथ – साथ प्रारम्भिक व प्राथमिक स्तर की मूलभूत सेवाओं को प्रदान करने के लिए योग्य सभी अधिकारीयों की नियुक्ति की जायेगी,
  2. दिशा – निर्देशों का क्रियान्वयन – राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम 2021 के उचित पालन व क्रियान्वयन के लिए राष्ट्रीय स्तर पर दिशा – निर्देशो को जारी किया जायेगा,
  3. अनुमान के आधार पर सूची बनाई जायेगी – RBSK 2021 के तहत अभी तक उपलब्ध राष्ट्रीय अनुमानों के अनुसार अलग – अलग रोगों, व्याधियों, कमियों व अक्षमता के आधार पर सभी जिला मंडलो द्धारा सूची तैयार की जायेगी,
  4. राज्य स्तरीय बैठकें आयोजित होंगी – बाल स्वास्थ्य को समर्पित इस कल्याणकारी योजना की व्यापक व सार्थक मूल्यांकन वाली समीक्षा के लिए राज्य स्तरीय बैठकें आयोजित की जायेगी,
  5. स्वास्थ्य दलों की भर्ती प्रक्रिया शुरु की जायेगी – इस योजना का लाभ सभी तक पहुंचाने के लिए मोबाइल स्वास्थ्य दल की कुल आवश्यकता के साथ – साथ स्वास्थ्य दलों की भर्ती प्रक्रिया को शुरु किया जायेगा,
  6. रोंगो की पहचान व निदान किया जायेगा – बाल स्वास्थ्य का सशक्तिकरण करने वाली इस बाल कल्याणकारी योजना अर्थात् RBSK 2021 के तहत विभिन्न किस्म के रोंगो की पहचान की जायेगी और साथ ही साथ उनके निदान की पर्याप्त व्यवस्था भी की जायेगी आदि।

उपरोक्त सभी कार्यों को इस योजना के तहत सम्पादित किया जायेगा ताकि इस योजना का सफलतापूर्वक क्रियान्वयन किया जा सकें और सभी बालकों का स्वास्थ्य सशक्तिकरण करते हुए उनके उज्जवल भविष्य का निर्माण किया जा सकें।

RBSK 2021 – सम्पर्क करें

यदि आप भी इस योजना की पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते है या फिर इस योजना के तहत अपनी किसी भी समस्या का समाधान प्राप्त करना चाहते है तो उपरोक्त सम्पर्क विवरणो पर सम्पर्क कर सकते है और इस योजना का पूरा लाभ प्राप्त कर सकते है।

Leave a Comment